भाजपा के हंगामे के कारण झारखंड विधान सभा की कार्यवाही बाधित

रांची : बजट सत्र के चौथे दिन भाजपा के हंगामे के बीच झारखंड विधानसभा की कार्यवाही बुधवार को दो बार स्थगित करनी पड़ी। बाबूलाल मरांडी को विपक्ष का नेता बनाये जाने पर विधानसभा अध्यक्ष के निर्णय में हो रही देरी के खिलाफ भाजपा विधायकों ने जबर्दस्त विरोध प्रदर्शन किया।
बुधवार को सुबह 11 बजे विधानसभा की कार्यवाही प्रारंभ हुई जहां भाजपा विधायकों का विरोध प्रदर्शन जारी रहा और उन्होंने लोकतंत्र की हत्या करने के आरोप लगाये। उन्होंने पार्टी के साथ न्याय करने की मांग की और अध्यक्ष के आसन के सामने आकर नारेबाजी करने लगे। हंगामे के बीच विधानसभाध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो ने कई बार भाजपा विधायकों से अपना स्थान ग्रहण करने का आग्रह किया लेकिन वह अपनी मांग पर अड़े रहे। भाजपा विधायक अनंत ओझा ने प्रश्नकाल से पहले ही व्यवस्था का प्रश्न उठाया और कहा कि विधानसभा का बजट सत्र अब तक विपक्ष के नेता के बिना ही चल रहा है, जो उचित नहीं है। भाजपा सबसे बड़ा विपक्षी दल है और उसके निर्वाचित नेता बाबूलाल मरांडी को तत्काल विपक्ष के नेता का दर्जा दिया जाना चाहिए। लेकिन विधानसभाध्यक्ष रवींद्रनाथ महतो ने इसे खारिज कर दिया और कहा कि नियमों के तहत ही इस मामले पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने भाजपा विधायकों से अपनी सीट पर जाने का आग्रह किया लेकिन वह उनके आसन के सामने ही डटे रहे, जिसके बाद दोपहर बारह बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही उन्होंने स्थगित कर दी। दोबारा बारह बजे सदन की कार्यवाही फिर से प्रारंभ होने पर भी भाजपा विधायकों का हंगामा जारी रहा, जिसे देखते हुए विधानसभाध्यक्ष ने कार्यवाही भोजनावकाश के बाद दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी। इस दौरान सदन में कोई भी विधायी कार्य नहीं हो सका। सदन के बाहर भाजपा ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी झामुमो, कांग्रेस और राजद के दबाव में विस अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी को विपक्ष का नेता नहीं घोषित कर रहे हैं। भाजपा विधायक विरंची नारायण ने एक बार फिर आरोप लगाया कि वास्तव में सरकार राज्यसभा की दो सीटों के लिए होने वाले द्विवार्षिक चुनावों में हेरफेर की दृष्टि से बाबूलाल मरांडी की विधानसभा की सदस्यता समाप्त कराने की फिराक में है। नयी विधानसभा चुने जाने के बाद छह से आठ जनवरी तक हुए विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान भाजपा ने अपने विधायक दल के नेता का चुनाव नहीं किया था। बाद में इस माह सत्रह तारीख को बाबूलाल मरांडी ने अपनी झारखंड विकास मोर्चा का भाजपा में विलय कर लिया, जिसके बाद 24 फरवरी को भाजपा विधायक दल की बैठक में मरांडी को सर्वसम्मति से भाजपा विधायक दल का नेता चुन लिया गया और इसकी सूचना विधानसभाध्यक्ष को देकर भाजपा ने मरांडी को विपक्ष का नेता बनाये जाने की अनुशंसा की थी लेकिन विधानसभा सचिवालय ने बताया है कि फिलहाल विस अध्यक्ष ने इस मामले में अपना निर्णय नहीं किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

क्या सच में आज रात आ रहा है विजय माल्या भारत ?

नयी दिल्ली : देश के 17 बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपये गबन कर भागे विजय माल्या के आज रात किसी भी वक्त भारत में आगे पढ़ें »

corona

बंगाल में कल से आज कुछ कम आए संक्रमण के मामले

कोलकाता : बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के मंगलवार की तुलना में आज (बुधवार) को 340 मामले आए है जबकि मंगलवार आगे पढ़ें »

ऊपर