न्यूयार्क में पुजारी पर हमले की त्वरित कार्रवाई की भारतीय राजदूत ने की तारीफ

New York, attack on Indian priest, Indian ambassador, praise of action

न्यूयॉर्क : अमेरिका में न्यूयॉर्क के फ्लोरल पार्क में 52 वर्षीय एक व्यक्ति ने हिन्दू पुजारी स्वामी हरीशचंद्र पुरी पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया। घायल अवस्‍था में पुजारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुजारी पर हुए हमले के बाद हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है। भारत के शीर्ष राजनयिकों ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई के लिए अमेरिकी अधिकारियों के प्रति आभार प्रकट किया है। मालूम हो कि पुजारी पर उस वक्त हमला किया गया जब वह अपने धार्मिक परिधान में फ्लोरल पार्क में मंदिर के निकट टहल रहे थे। वे न्यूयॉर्क के क्वीन्स के ग्लेन ओक्स में शिव शक्ति पीठ के पुजारी है। पिटाई करते वक्त वह आदमी जोर से चिल्ला कर कह रहा था कि ‘यह हमारा इलाका है’। बता दें कि पुलिस ने हमला करने वाले सर्जियो गौविया को गिरफ्तार कर लिया है। उस पर हमला, उत्पीड़न और क्रिमिनल पजेशन ऑफ वेपन का आरोप लगाया गया है।

अमेरिकी सांसदों ने की निंदा

इस घटना के सामने आने के बाद जब भारत की आेर से जानकारी साझा की गई तब अमेरिकी सांसदों ग्रेस मेंग और टॉम सोजी ने इस हिंसक हमले की कड़ी निंदा की और कहा कि वे हिन्दू समुदाय के साथ हैं। उन्होंने कहा कि क्वीन्स पूरी दुनिया से आने वाले विविध समुदाय के लोगों का है। ‌साथ ही यह भी कहा कि यहां इस प्रकार की भावना को पनपने नहीं दिया जाएगा। अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने इस मामले पर की गई कारवाई का समर्थन किया है और उन्होंने इसके लिए मेंग और सोजी को धन्यवाद दिया है।

महावाणिज्य दूत ने आभार प्रकट किया

न्यूयॉर्क में महावाणिज्य दूत संदीप चक्रवर्ती ने रविवार को पुजारी पुरी से भेंट कर उनका हालचाल पूछा। उन्होंने आरोपी की त्वरित गिरफ्तारी पर आभार प्रकट किया। चक्रवर्ती ने ट्वीट किया, ‘‘शिव शक्ति पीठ के स्वामी जी से मिला, जिनपर हमला किया गया था। वह अपने घर वापस चले आए हैं। घर पर रहकर वो स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। वो फिर से मंदिर जाने लगे हैं। हमलावर की त्वरित गिरफ्तारी के लिए पुलिस को धन्यवाद। सहयोग के लिए ग्रेस मेंग और टॉम सोजी तथा भारतीय समुदाय का शुक्रिया।’’

ट्रंप के ट्वीट से प्रभावित था शख्स

गौरतलब है कि इस घटना को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस ट्वीट से जोड़ कर देखा जा रहा है जिसमें उन्होंने डेमोक्रेटिक पार्टी की चार कांग्रेस सदस्यों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा था कि ये महिलाएं जहां से आई हैं वहीं चली जाए। ट्रंप की इस टिप्पणी का डेमोक्रेटिक पार्टी ने कठोर शब्दों में निंदा की है और इसे नस्लीय करार दिया है।

ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, “हमारा देश आजाद, सुंदर और खूब सफल है। अगर आप हमारे देश से नफरत करते हैं, और अगर आप यहां खुश नहीं हैं, तो आप जा सकते हो।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर