शनिदेव के प्रकोपों से चाहते हैं मुक्ति तो खाएं ये 5 चीजें

कोलकाता : ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक शनि देव न्याय के देवता माने जाते हैं। शनि देवता की पूजा के लिए शनिवार का दिन सबसे उत्तम माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि शनि देवता व्यक्ति के कर्मों के मुताबिक उसे फल देते हैं। शनि देवता की नाराजगी से बड़े से बड़े राजाओं तक का वैभव पल भर में खत्म हो जाता है। इसीलिए लोग शनि देवता की साढ़ेसाती और ढैय्या से डरते हैं और उससे मुक्ति पाने का उपाय करते हैं। आज हम यहां पर यह बताने जा रहे हैं कि वो कौन सी ऐसी 5 चीजें हैं कि जिनका शनिवार के दिन सेवन मात्र से ही शनिदेवता के प्रकोप से मुक्ति पाई जा सकती है।
ये हैं वो 5 चीजें :

उड़द दाल की खिचड़ी का सेवन
वैसे भी लोग शनिवार के दिन खिचड़ी खाना पसंद करते हैं। लेकिन शनिवार के दिन यदि उड़द के दाल की खिचड़ी खाई जाय तो इससे शनि देवता प्रसन्न होते हैं परिणामस्वरूप शनि देवता के प्रकोप से मुक्ति मिलती है।
काले तिल का सेवन
ज्योतिषशास्त्र में शनिवार के दिन काले तिल का सेवन करना बहुत लाभकारी माना गया है। ऐसा भी कहा जाता है कि शनिवार के दिन काले तिल का सेवन करने से शनि देवता का प्रकोप कम हो जाता है।

गुलाब जामुन का सेवन
अगर कोई व्यक्ति शनि ग्रह के दोष से परेशान है तो उसे शनिवार के दिन गुलाब जामुन की मिठाई का सेवन जरूर करना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि शनिवार के दिन गुलाब जामुन का सेवन करने से शनि देवता शांत होते हैं।


सरसों के तेल से बनी चीजों का सेवन
चूंकि शनिवार के दिन शनि देवता को सरसों का तेल चढ़ाया जाता है इसलिए ऐसा माना जाता है कि यदि शनिवार के दिन सरसों के तेल में बनी हुई चीजों का सेवन किया जाय तो इससे भी शनि देवता शांत होते हैं और व्यक्ति को लाभ पहुंचाते हैं।
काले चने का सेवन
ऐसी मान्यता है कि शनिवार के दिन काले चने की सब्जी का सेवन करने से शनि दोषों से मुक्ति मिलती है और शनि दोष की वजह से अटके पड़े कार्य भी शुरू हो जाते हैं

शेयर करें

मुख्य समाचार

रायदीघी से चुनाव नहीं लड़ना चाहती हैं तृणमूल की विधायक देवश्री

कहा - काफी अपमानित हुई हूं, धमकियां भी मिलीं सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव से पहले मशहूर अभिनेत्री व दो बार की तृणमूल विधायक देवश्री राय आगे पढ़ें »

कांचरापाड़ा में रोकी गयी भाजपा की परिवर्तन यात्रा

पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच धक्का-मुक्की कोलकाता : भाजपा की परिवर्तन यात्रा रोके जाने को लेकर बुधवार को कांचरापाड़ा का कापा मोड़ इलाका रणक्षेत्र में आगे पढ़ें »

ऊपर