नूपुर शर्मा समर्थक की दिनदहाड़े हत्या के बाद उदयपुर में भारी तनाव, बंद हुआ इंटरनेट

उदयपुर : राजस्थान के उदयपुर के मालदास गली इलाके में मंगलवार शाम दिनदहाड़े दो युवकों द्वारा भाजपा की निलंबित नेता नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाले व्यक्ति की सिर कलम कर हत्या किए जाने के बाद इलाके में भारी तनाव का माहौल है। हालात पर काबू पाने के लिए उदयपुर जिले में 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद करने के साथ ही पुलिस बल को मौके पर तैनात कर दिया गया है। घटना पर रोष जताते हुए स्थानीय लोग अपनी दुकानें बंद कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उदयपुर में हुए इस जघन्य हत्याकांड पर कहा कि यह बहुत ही दुखद घटना है। यह कोई छोटी घटना नहीं है, जो हुआ वह किसी की कल्पना से परे है। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। अशोक गहलोत ने दो ट्वीट कर कहा, ”उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं। इस घटना में शामिल सभी अपराधियों कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी। मैं सभी पक्षों से शान्ति बनाए रखने की अपील करता हूं। ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी।” ”मैं सभी से अपील करता हूं कि इस घटना का वीडियो शेयर कर माहौल खराब करने का प्रयास ना करें। वीडियो शेयर करने से अपराधी का समाज में घृणा फैलाने का उद्देश्य सफल होगा।”
शहर में युवक का सिर कलम करने पर कलेक्टर उदयपुर ने कहा कि मैं सभी से शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील करता हूं। प्रभावित परिवार को सरकार की ओर से मदद मुहैया कराई जाएगी। आरोपियों पर होगी कड़ी कार्रवाई। वहीं, विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने उदयपुर हत्याकांड पर बोलते हुए कहा कि हमने सीएम से बात की है। इसमें शामिल लोगों को गिरफ्तार किया जाए और पीड़ित परिवार को सहायता दी जाए। यह घटना एक व्यक्ति के कारण संभव नहीं है, यह किसी संगठन के कारण हो सकता है। यह भयावह और प्रशासन की विफलता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इस उम्र के बाद बच्चे को जरूर सिखाएं ये 5 काम करना, कई मुश्किलें होंगी आसान

कोलकाता : बच्चों की खास देखभाल और बेहतर परवरिश के लिए पैरेंट्स हर मुमकिन कोशिश करते हैं। बावजूद इसके कुछ बच्चे आलसी नेचर के होते आगे पढ़ें »

ऊपर