तरक्की और धन प्राप्ति के लिए गणपति जी की करें ऐसे पूजा, तुंरत मिलेगा लाभ

कोलकाता : बुधवार के दिन भगवान गणपति की पूजा का होता है। गणपति जी की पूजा करने से से जीवन में सुख-सौभाग्य के साथ ही संकटों से मुक्ति मिलती है। यदि आपके सामने आर्थिक समस्या हो या तरक्की की बंद हो गई हो तो आपको बुधवार के दिन गणपति जी की पूजा जरूर करनी चाहिए। गणपति जी विघ्नहर्ता हैं और कार्य को सफल बनाने वाले भी हैं। यदि बुधवार के दिन कुछ खास विधि से गणपति जी की पूजा की जाए तो प्रभु बहुत जल्दी प्रसन्न होते हैं और आपकी समस्या आसानी से दूर हो सकती है।
गणपति देव की इस विधि से करें पूजा, तो मिलेगा तुरंत पुण्यलाभ ….
* बुधवार का व्रत करें और ये व्रत कम से कम 21 दिन का होना चाहिए।
* बप्पा का व्रत करने से हर तरह के संकट भी दूर होते हैं और आपके किसी कार्य में दिक्कत आ रही हो तो वह भी दूर हो जाता है।
* बुधवार के दिन भगवान गणेश को दही का भोग जरूर लगाएं और अपनी मनोकामना प्रभु के समक्ष रखें। याद रखें कि दही का भोग हर बुधवार को लगाना होगा।
*बुधवार के दिन गणपति जी पूजा करने से पहले उनके सामने स्वास्तिक का चिन्ह बनाएं और उस पर घी की दीपक जलाएं। फिर चन्दन-धूप और सफेद फूल के साथ दूर्वा जरूर चढ़ाएं।
*सौभाग्य की प्राप्ति के लिए बुद्धवार के दिन भगवान गणपति को एक साबुत सुपारी चढांए और उस सुपारी को धूप-दीप दिखाकर उसे अपनी तिजोरी में रख दें। ये उपाय आपके घर कभी धन की कमी नहीं होने देगा।
*भगवान गणपति की दूर्वा चढ़ाने से पहले दूर्वा को मौली के धागे में लपेट दें और तब इसे गणपति जी के हाथ पर रखें। याद रखें दूर्वा कभी जमीन या गणपति जी के चरण में नहीं रखना चाहिए।
* वैवाहिक जीवन में तनाव हो तो बुद्धवार के दिन किसी ब्राम्हण को आटे का दान करें। इससे दांपत्य जीवन का तनाव दूर हो जायेगा।
* गणपति जी के इनमे से किसी एक उपाय को आप पूरे 21 दिन तक दोहराएं। आपको लाभ अवश्य मिलेग

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

महानगरः मार्केट खुलने के एक महीने में भी पटरी पर नहीं लौट पा रहा व्यवसाय

कोरोना काल, ट्रेनों का बंद रहना और तीसरी लहर के डर से नहीं हो रही भीड़ सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोरोना वायरस की दहशत कुछ कम होने आगे पढ़ें »

ऊपर