हिमाचल : बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से 8 लोगों की मौत, प्रदेश के 323 सड़के क्षतिग्रस्त

flood

शिमला : उत्तर भारत समेत देश के कई हिस्सों में हो रही लगातार बारिश की वजह से लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। भारी बारिश की चलते कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन चुके है। इसी तरह भारी बारिश के कारण हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में हुए हादसों में आठ लोगों की मौत हुई है। बाढ़ की वजह से प्रदेश में कई जगहों पर भूस्‍खलन की घटना सामने आई है, जिसकी वजह से 323 मार्ग और 5 राष्ट्रीय राजमार्ग क्षतिग्रस्त हुए है। बताया जा रहा है कि इन मार्गो पर वाहनों के आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। हिमाचल के अलावा उत्तराखंड और राजस्‍थान में भी भारी बारिश और बाढ़ की वजह से लोगों का जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

बारिश की वजह से स्कूल और कॉलेज बंद

मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में अब तक सबसे अधिक 118 एमएम बारिश दर्ज की गई है। वहीं दूसरे स्‍थानों की बात करें तों धर्मशाला में 115, डलहौजी और चंबा में 73 एमएम बारिश दर्ज किया गया है। चंबा और कांगड़ा समेत अन्य स्‍थानों पर जिला प्रशासन ने भूस्‍खलन की जानकारी देने के लिए वॉट्सऐप ग्रुप बनाया है। साथ ही अधिकारियों ने बताया कि लाहुल-स्पिति जिले में मनाली की ओर जाने वाली हाइवे पर कोकसर के निकट पुल क्षतिग्रस्त होने की वजह से वहां वाहनों के आवाजाही पर राेक लगा दी गई है। इसके अलावा मनाली हाइवे पर भूस्‍खलन की स्थिति पैदा होने से यातायात प्रभावित हुआ है। वहीं लगातार हो रही भारी बारिश को देखते हुए चंबा और कांगड़ा जिले में सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद कर दिया गया है।

‌बारिश में बह गई सड़क

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में भारी बारिश और बाढ़ की वजह से बस स्टैंड के समीप एस सड़क पानी में बह गया, जिसके वजह से यहां  वाहनों के आवाजाही पर रोक लग गई है। इसके अलावा कई सड़कों पर पहाड़ी पत्‍थर के गिरने और भूस्‍खलन की वजह से वे क्षतिग्रस्त हो गई हैं, जिनपर प्रशासनिक स्तर पर कार्य किया जा रहा है ताकि परिवहन व्यवस्‍था को सामान्य किया जा सके।

 उत्तराखंड में भी बारिश का कहर

हिमाचल प्रदेश की तरह उत्तराखंड में भी भारी बारिश का कहर जारी है जिससे लोगों का जीना का मुश्किल हो गया है। उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में भारी नुकासान हुआ है, यहां सबसे ज्यादा लोग प्रभावित हुए है। प्रशासन की ओर से राहत बचाव के कार्यो के लिए एसडीआरएफ, रेड क्रॉस, आईटीबीपी और एनडीआरएफ की टीमों को तैनात किया गया है। बारिश और बाढ़ में फंसे लोगों को राहत बचाव के कर्मियों ने सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पीसीबी को नहीं मिल रहा कोई प्रायोजक

कराची : कोरोना वायरस महामारी के आर्थिक दुष्प्रभावों का सामना पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भी करना पड़ रहा है जिसे इंग्लैंड में मौजूद राष्ट्रीय टीम आगे पढ़ें »

लगातार सातवीं जीत से रीयाल मैड्रिड ला लिगा खिताब के करीब

मैड्रिड : सर्गियो रामोस के दूसरे हाफ में पेनल्टी पर किये गये गोल की मदद से रीयाल मैड्रिड ने एथलेटिक बिलबाओ को 1-0 से हराकर आगे पढ़ें »

कड़ी मेहनत के बदौलत तेज गेंदबाजी में मजबूत हुआ भारत : गांगुली

टी20 विश्व कप का टलना तय, ऑस्ट्रेलियाई टीम को इंग्लैंड सीरीज के लिये कहा गया

यूएई और श्रीलंका के बाद अब न्यूजीलैंड ने आईपीएल की मेजबानी का ऑफर दिया

गृहमंत्रालय ने कॉलेज और प्रोफेशनल संस्थानों को फाइनल ईयर की परीक्षा कराने को दी मंजूरी

बंगाल में कोरोना का कहर जारी आज फिर आये 800 के पार मामले, 22 की हुई मौत

डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों का बंगाल बनाना, उन्हें होगी सच्ची श्रद्धांजलि : राज्यपाल धनखड़

कोलकाता के नजदीक सौर पेड़ से रौशन होंगी पगडंडियां, पार्क

बंगाल में बने ऐप को ममता ने किया पेश कहा – यह देशभक्ति की पहचान

ऊपर