हर व्यक्ति के लिए स्वास्थ्य सबसे बड़ा धन : अश्विनी चौबे

union-minister-ashwini

भागलपुर : केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने स्वास्थ्य को सबसे बड़ा धन बताया और कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार देश के गरीब एवं अंतिम पायदान पर रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य के प्रति चिंतित है और इसके लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं।
अश्विनी चौबे ने बुधवार को यहां केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के सौजन्य से आयोजित स्वास्थ्य मेला सह जागरूकता शिविर के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि देश के गरीब लोगों के स्वास्थ्य की चिंता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को है और उन लोगों के लिए ‘आयुष्मान भारत योजना’ शुरू की गयी है। योजना के तहत देश के हर प्रमुख सरकारी एवं निजी अस्पतालों में लाभुकों को नि:शुल्क इलाज की सुविधा मिल रही है। इस योजना ने भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में ख्याति प्राप्त की है। चौबे ने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत देश के 27 राज्य के 272 जिलों में बच्चों के टीकाकरण योजना है। टीकाकरण के प्रति आम लोगों की जागरूकता बढ़ाना सरकार की प्राथमिकता है। बच्चों के टीकाकरण की योजना पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के समय शुरू की गयी थी। परिवार कल्याण राज्यमंत्री ने कहा कि देशभर में चलाई जा रही केंद्र सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं से आमलोगों के भविष्य में बदलाव आयेगा। खासकर, सुदूर एवं उपेक्षित प्रदेशों में रहने वाले लोगों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। वहीं, इन योजनाओं को अमलीजामा पहनाने के लिए सरकार तेजी से काम कर रही है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के लोक संपर्क एवं संचार ब्यूरो के अपर महानिदेशक शैलेश कुमार मालवीय ने कहा कि सरकार की ओर से बच्चों के टीकाकरण का सौ प्रतिशत कार्य मार्च 2020 तक पूरा करने के लिए कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इसमें केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय और सिविल सर्जन की पूरी सहभागिता है। समारोह को राज्यसभा सांसद कहकशां परवीन, सांसद अजय कुमार मंडल एवं भाजपा के युवा नेता अर्जित शाश्वत चौबे ने भी संबोधित किया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हावड़ा में कम नहीं हो रहा राजीव के प्रति रोष

तृणमूल कर्मियों ने कहीं पुतला फूँका तो कहीं नारेबाजी की सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : मुकुल राय के तृणमूल में शामिल होने के बाद अब राजीव बनर्जी के आगे पढ़ें »

‘ट्रांसजेंडर होने के कारण नहीं हुआ मेरा कोविड टेस्ट’

मानवी ने की शिकायत, कहा, मानसिक तौर पर टूट गयी हूं सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : केवल ट्रांसजेंडर महिला होने के कारण मेरा कोविड टेस्ट नहीं हो आगे पढ़ें »

ऊपर