कंसीव करने में आ रही है दिक्कत? ये चीजें दूर कर सकती हैं आपकी हर मुश्किल

नई दिल्ली : किसी भी कपल के जीवन में माता-पिता बनना एक सुखद एहसास होता है। बहुत से पेरेंट्स इस बात पर सहमत होंगे की बच्चे की किलकारी सुनना और उसे बड़े होते हुए देखने से बेहतर इस दुनिया में कोई चीज नहीं है। लेकिन ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें माता-पिता बनने में कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। आजकल की स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल के चलते बहुत से लोगों को इनफर्टिलिटी या नपुंसकता की समस्या का सामना करना पड़ता है। इनफर्टिलिटी के लिए बहुत सी चीजें जिम्मेदार होती हैं जैसे आपका लाइफस्टाइल, खानपान, हार्मोन का असंतुलित होना, स्पर्म काउंट कम होना और एग्स की खराब क्वॉलिटी।
सेंटर फोर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक, हर 5 में से 1 व्यक्ति को कंसीव करने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है। इनफर्टिलिटी की समस्या से छुटकारा पाने और कंसीव करने के लिए जरूरी है कि आप अपनी लाइफस्टाइल और खानपान में बदलाव करें। हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी ओवरऑल हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होती हैं और इनका सेवन करने से आप इनफर्टिलिटी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।
कंसीव करने के लिए किस तरह करें चीजों का सेवन?
अगर आप कंसीव करने का सोच रहे हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आप इस बात पर ध्यान दें कि आप किन चीजों का सेवन कर रहे हैं और आपकी लाइफस्टाइल किस तरह की है। कंसीव करने के लिए महिलाओं को अपनी डाइट में 400 माइक्रोग्राम फॉलिक एसिड को जरूर शामिल करना चाहिए। फॉलिक एसिड के जरिए प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाली दिक्कतों को कम किया जा सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने डॉक्टर से इसे लेकर बात करें और उनकी ओर से सुझाई गई दवाओं का ही सेवन करें।
डाइट की बात करें तो अगर आप कंसीव करने का सोच रहे हैं तो जरूरी है कि आप अल्ट्रा रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट्स और हाई शुगर वाली चीजों का सेवन कम से कम करें। इसके अलावा डाइट में फाइबर, ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्लांट बेस्ड प्रोटीन के साथ ही एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और मिनरल्स युक्त चीजों को शामिल करें।
साल 2018 की एक स्टडी में यह बताया गया है कि लगातार फास्ट फूड्स का सेवन करने और फलों का सेवन ना करने से कंसीव करने में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इसके अलावा कई स्टडीज में यह बात भी सामने आई है कि अगर आप कंसीव करने का प्लान कर रहे हैं तो इस दौरान डेयरी और ग्लूटनयुक्त उत्पादों का सेवन करने से बचना चाहिए। हालांकि इसे लेकर कोई पुख्ता जानकारी हासिल नहीं हो पाई है।
हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी कंसीव करने की संभावनाओं को बढ़ाती हैं और साथ ही इन चीजों के सेवन से आपको प्रेग्नेंसी के दौरान आने वाली दिक्कतों का सामना भी नहीं करना पड़ता। आइए जानते हैं इन चीजों के बारे में –
सार्डिन मछली- सार्डिन नाम की इस मछली में ओमेगा -3 फैटी एसिड और हाई क्वॉलिटी प्रोटीन के साथ ही कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जिससे आपको कंसीव करने में मदद मिल सकती है। साल 2018 में द जर्नल ऑफ क्लिनिकल एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म में प्रकाशित एक स्टडी में भी इस बात का खुलासा किया गया है कि सार्डिन मछली को डाइट में शामिल करने से कंसीव करने में मदद मिलती है साथ ही इसे खाने से महिलाओं और पुरुषों में इनफर्टिलिटी की समस्या दूर होती है। सार्डिन को प्रेग्नेंसी-फ्री सीफूड माना जाता है क्योंकि इसमें मरकरी का लेवल काफी कम पाया जाता है।
फुल-फैट दूध- कई स्टडीज में डेयरी उत्पादों को कंसीव करने के लिए सही नहीं माना जाता। स्टडीज के मुताबिक, डेयरी उत्पादों का सेवन करने से जलन की समस्या बढ़ सकती है जिससे कंसीव करने में दिक्कत आती है। हालांकि, साल 2021 में अमेरिकन कॉलेज ऑफ न्यूट्रिशन के जर्नल में प्रकाशित एक स्टडी में यह बताया गया कि डेयरी उत्पाद से क्रॉनिक इंफ्लेमेशन की समस्या बढ़ती नहीं है और कुछ मामलों में यह सूजन और जलन को कम करने में मदद करते हैं।
स्टडी में यह भी बताया गया है कि जो महिलाएं ओव्यूलेटरी इनफर्टिलिटी (ऐसी समस्या जिसमें गर्भधारण करने के लिए महिलाओं की ओवरीज में से एग रिलीज नहीं हो पाते) की समस्या से जूझ रही हैं वो अगर फुल फैट दूध का सेवन करती हैं तो इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।
ओट्स- साबुत अनाज जैसे ओट्स में विटामिन बी, आयरन और फाइबर भी भरपूर मात्रा पाया जाता है। ऐसे में जो महिलाएं कंसीव करने का सोच रही हैं उनके लिए ओट्स काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। इसे खाने से महिलाएं की एंडोमेट्रियल लाइन (एंडोमेट्रियम यानि गर्भाशय के अंदर की लेयर)मोटी होती है।
टमाटर- पुरुषों में इनफर्टिलिटी की समस्या को दूर करने के लिए टमाटर काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। टमाटर में फर्टिलिटी को बढ़ाने वाला एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जिसे लाइकोपीन कहा जाता है। इसके लिए जरूरी है कि पुरुष कच्चा टमाटर खाने की बजाय खाने में टमाटर को पकाकर इसका सेवन करें। अगर आपको टमाटर पसंद नहीं है तो आप ऐसी चीजों का सेवन कर सकते हैं जिसमें लाइकोपीन पाया जाता है जैसे तरबूज और लाल शिमलामिर्च आदि।
अखरोट- साल 2019 के एक डाटा के मुताबिक पुरुषों को इनफर्टिलिटी की समस्या से बचने के लिए रोजाना लगभग 3 महीनों तक 42 ग्राम अखरोट का सेवन जरूर करना चाहिए। अखरोट का सेवन करने से स्पर्म की गुणवत्ता में सुधार आता है। अखरोट में प्लांट बेस्ड प्रोटीन के साथ ही ओमेगा-3 फैटी एसिड, कई पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। साथ ही अखरोट पुरुषों समेत महिलाओं में भी इनफर्टिलिटी की समस्या को दूर करने में मदद करता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

रेडियो के जरिए लोगों को साइबर क्राइम के प्रति जागरूक कर रही है कोलकाता पुलिस

अगले दो महीने तक रेडियो पर चलेगा विज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोलकाता पुलिस के साइबर सेल की ओर से महानगर में विभिन्न तरह के साइबर क्राइम आगे पढ़ें »

इन 5 मौकों पर घर में कभी नहीं बनानी चाहिए रोटी, टूट पड़ता है दुखों का पहाड़

कोलकाता : आपने एकादशी पर अक्षत यानी चावल न बनाने के शास्त्रीय नियमों के बारे में तो सुना ही होगा। लेकिन क्या आपको पता है आगे पढ़ें »

ऊपर