दिल्ली में 6 साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत, हालत ऐसी की चिल्ला भी नहीं पाती

15year old girl raped

नई दिल्लीः आए दिन बच्चों से होने वाली दुष्कर्म की घटना को देखते हुए गत दिनों सुप्रीम कोर्ट ने इसपर स्वत: संज्ञान लेने के बाद सरकार को इसे रोकने के लिए कदम उठाने को कहा था। वहीं देश की राजधानी दिल्ली के जनकपुरी इलाके में रविवार रात को 6 साल की बच्ची के साथ रूह कंपा देने वाली हैवानियत सामने आई है। अपनी मां के साथ झुग्गी के सामने फुटपाथ पर सो रही मासूम को एक रिक्शा चालक ने अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म किया। इतना ही नहीं आरोपी ने बलात्कार के बाद बच्ची के सिर को पत्थर से कुचल दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। हमलावर घटना को अंजाम देने के बाद पीड़ित को मारने कोशिश कर ही रहा था कि तभी लोगों ने उसे मौके पर ही दबोच लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी। घटना की सूचना मिलते ही जनकपुरी थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। वहीं बच्ची को इलाज के लिए दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल ले जाया गया। उसकी नाजुक हालत को देखते हुए उसे सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया है। बच्ची की पीड़ा का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उसके शरीर का कोई अंग ऐसा नहीं बचा है, जिस पर टांके न लगे हो।

बच्ची को ठीक होने में लगेंगे एक साल

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल जब बच्ची को देखने अस्पताल पहुंचीं तो उन्होंने कहा कि बच्ची को ठीक होने में एक साल से अधिक समय लगेगा। डॉक्टरों से मिली जानकारी के अनुसार उसके पूरे शरीर पर नाखून व दांत के निशान हैं और उसे कई गंभीर चोटें भी आई हैं। मासूम अपनी आंखें भी पूरी तरह से खोल नहीं पा रही हैं। कोशिश करने पर आंखें बंद हो जाती हैं। दर्द की वजह से रोती भी है पर उसकी आवाज नहीं निकल रही है।

शौचालय के पास मिली बच्ची

बच्ची की मां के अनुसार रात 12 बजे तक वह बच्ची उसके पास ही सो रही थी पर जब सवा एक बजे उसकी नींद खुली तो वह गायब थी। इसके बाद परिवारवालों ने बच्ची खोजना शुरू कर दिया। इन सब के बीच एक टैक्सी ड्राइवर जब पास के शौचालय के निकट पहुंचा तब उसकी नजर आरोपी पर पड़ी जो दुष्कर्म करने के बाद बच्ची के सिर को पत्‍थर से कुचल रहा था। फिर उसने लोगों को वहां बुलाकर उसे पकड़ा और इस घटना की जानकारी पुलिस को दी। पूछताछ में पता चला कि आरोपी का नाम अरुण कुमार दास है और वह नशे का आदी है। इस घटना के बाद जनकपुरी इलाके के लोगों ने आक्रोशित होकर जमकर प्रदर्शन किया। लोग आरोपी को फांसी देने की मांग कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Jagdip Dhankhar

धनखड़ के खिलाफ विधान सभा से संसद तक मोर्चाबंदी

कोलकाता : ऐसा पहली बार हुआ है जब विधानसभा में सत्ता पक्ष ने धरना दिया। कारण थे राज्यपाल जगदीप धनखड़, जिन पर विधेयकों को मंजूरी आगे पढ़ें »

मेरे कंधे पर बंदूक रखकर चलाने की को​शिश न करें – धनखड़

कोलकाता : राज्यपाल जगदीप धनखड़ और तृणमूल सरकार के बीच संबंधों में मंगलवार को और खटास आ गयी जब उन्होंने ‘कछुए की गति से काम आगे पढ़ें »

ऊपर