राजस्थान के घर-घर में हर सप्ताह दो बार होगा हनुमान चालीसा का पाठ, जानें कारण

जयपुरः कोरोना वायरस के चलते इन दिनों समाज मे एक भय का वातावरण बना हुआ है। इस संकट के दौर में जब शासन-प्रशासन अपने स्तर पर सभी संभव प्रयास कर रहे हैं, समाज में वायरस के डर को दूर करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की परिवार प्रबोधन गतिविधि की ओर से पूज्य संतों के मार्गदर्शन और नेतृत्व में एक शनिवार को प्रदेशभर में हनुमान चालीसा का पाठ किया जाएगा।

संघ के क्षेत्र प्रचारक निंबाराम ने हनुमान चालीसा पाठ के पोस्टर का विमोचन किया। इस अवसर पर महानगर परिवार प्रबोधन प्रमुख पंडित सुरेन्द्र भी मौजूद रहे। कुटुंब प्रबोधन गतिविधि के प्रांत प्रमुख संजीव भार्गव ने बताया कि इस महामारी के दौर वीर हनुमान का स्मरण करने से हमारी सभी समस्याएं दूर होंगी। उन्होंने कहा कि जो जिन लोगों की इस महामारी से जान गई इससे उनकी आत्मा को शांति मिलेगी और हनुमान जी महाराज की कृपा से जो अस्वस्थ हैं, वे जल्द स्वस्थ और सुरक्षित होंगे।

शुरू हुआ हनुमान चालीसा सिद्धमंत्र का जाप

उन्होंने बताया कि इस दौर में कोराना गाइडलाइन, सावधानी, औषधि के साथ सच्चे मन से की गई प्रार्थना भी संकट से मुक्ति का साधन है। अतः हम सब मिलकर सर्व हिताय सर्व जनाय की भावना से सामूहिक निश्चित समय पर हनुमान चालीसा का पाठ कर एक व्यापक सुरक्षा श्रृंखला निर्माण करें। कई स्थानों पर हनुमान भक्तों ने सवा लाख हनुमान चालीसा सिद्धमंत्र का जाप का लक्ष्य तय किया है।

संजीव भार्गव ने बताया कि यह अनुष्ठान 8 मई 2021 को सायं 8 बजे से शुरू होगा। शिवपूजन अपने यथायोग्य सामर्थ्य से करना है। इसमें कुछ जोड़ना चाहें तो जोड़ सकते हैं, लेकिन समाज से सामूहिक अपेक्षा केवल एक हनुमान चालीसा पाठ की है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर बंगाल को अलग राज्य घोषित करने की भाजपा सांसद ने कर दी मांग

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उत्तर बंगाल को अलग राज्य घोषित करें या फिर केंद्रशासित प्रदेश बनाएं। इसे लेकर खबरें तो कुछ दिनों से चल रही थीं, आगे पढ़ें »

कपल्स के लिए सबसे बेहतर Sex…

कोलकाता : हर व्यक्ति में सेक्स ड्राइव अलग-अलग होती है, लेकिन यदि आपकी या आपके साथी की हाई सेक्स ड्राइव है, तो आप शायद हमेशा बिस्तर पर आगे पढ़ें »

ऊपर