शुक्रवार को लक्ष्मी स्तुति से प्रसन्न होती हैं धन की देवी, धन से जुड़ी परेशानियां होती हैं दूर

कोलकाता : लक्ष्मी जी की कृपा सभी कष्टों को दूर करने वाली मानी गई है। 21 अक्टूबर 2021 से कार्तिक मास आरंभ हो चुका है। इस मास में लक्ष्मी जी की पूजा विशेष फल प्रदान करने वाली मानी गई है। धनतेरस और दिवाली का पर्व भी कार्तिक मास में ही मनाया जाता है। 22 अक्टूबर 2021 को शुक्रवार का दिन है। शुक्रवार का दिन लक्ष्मी जी को समर्पित है। इस दिन लक्ष्मी स्तुति का पाठ करने से धन से जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं और सुख-समृद्धि तथा वैभव प्राप्त होता है।
लक्ष्मी स्तुति कैसे करें?
लक्ष्मी स्तुति की एक विधि बताई गई है। इस विधि से ही लक्ष्मी स्तुति करनी चाहिए। मान्यता है कि विधि पूर्वक स्तुति करने से लक्ष्मी जी बहुत जल्द प्रसन्न होती हैं और शुभ फल प्रदान करती हैं। आइए जानते हैं लक्ष्मी स्तुति पाठ की विधि-
* शुक्रवार को स्नानादि कर पवित्र हो लाल या गुलाबी वस्त्र धारण करें।
* पूजा से पूर्व चौकी पर लाल कपड़ा बिछाकर उस पर लक्ष्मी जी को स्थापित करें।
* गंगाजल से इस स्थान को शुद्ध करें। इसके उपरांत दीपक जलाएं।
* लक्ष्मी जी को कुमकुम का तिलक लगाएं। लाल फूलों की माला चढ़ाएं।
* लाल रंग के आसन पर बैठकर लक्ष्मी जी का ध्यान लगाएं। इसके बाद लक्ष्मी स्तुति का पाठ आरंभ करें।
* इसके बाद ओम श्रीं आये नमः का 108 बार जाप करें।
* मंत्र का जाप करने के बाद लक्ष्मी जी की आरती करें। प्रसाद का वितरण करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पश्चिम बंगाल जल्द बूस्टर डोज का परीक्षण करेगा

6 अस्पतालों ने जताई इच्छा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पश्चिम बंगाल सरकार महानगर में कोविड-19 रोधी टीके की बूस्टर खुराक का जल्द परीक्षण करने की योजना बना आगे पढ़ें »

ऊपर