पार्टनर न मिलने पर खुद को इस तरह संतुष्ट करती हैं लड़कियां

कोलकाता : सेक्स एक ऐसी चीज है जिसको लेकर सभी के मन में उत्साह बना हुआ रहता है। अब चाहे वह पुरुष हो या महिला, सबके मन में ही सेक्स को लेकर एक अलग अहसास होता है। हर कोई यही चाहता है कि उसे सेक्स के बाद चरम आनंद की प्राप्ति हो। आमतौर पर सेक्स की तलब तो होती है, लेकिन पार्टनर के साथ ना होने पर जहाँ पुरुष हस्थमैथुन का सहारा लेते है तो वहीं महिलाए भी इस काम में पीछे नहीं है। आज हम आपको बताते है कि महिलाए खुद को संतुष्ट करने के लिए कैसे और किस चीज से हस्थमैथुन करती है…
कुछ महिलाओं को सख्‍त चीजों से हस्‍तमैथुन करने का शौक होता है। और ऐसे में वे मोमबत्तियों का प्रयोग करती है। इसके अलावा कुछ महिलाऐं मोमबत्तियों पर कंडोम भी लगाती है।
सुनने में आता है कि कुछ महिलायें कामकाज के दौरान भी उत्‍तेजित हो जाती है, और ऐसे में वे कुर्सियों का भी उपयोग हस्‍तमैथुन के लिए करती है। बता दे कि ऐसे में वे कुर्सियों के हत्‍थे पर अपने गुप्‍तांग को तेजी रगडती है जिसे उन्‍हे चरम आनंद मिलता है।
इसके अलावा महिलाऐं कई बार केले का उपयोग खाने के अलावा हस्‍तमैथुन के लिए भी करती है। लेकिन इस दौरान महिलाए कच्चे केले का इस्तेमाल करती है।
सुनने में आया है कि इसके अलावा कई महिलाऐं सब्जियों को भी अपने हस्तमैथुन का सहारा बना लेती है। जी हाँ, कई सब्जियों जैसे ककड़ी, गाजर, हरी बैंगन या मूली जैसी सब्जियों को आमतौर पर महिलाऐं हस्थमैथुन के लिए उपयोग में लेती है।
महिलाओं का इस मामले में यह मानना है कि इन सभी चीजो का उपयोग वे हस्थमैथुन में खुद को संतुष्ट करने के लिए करती है। इसके साथ ही उनका यह भी कहना है कि वे केवल इन चीजो का ही उपयोग इसलिए करती है क्योकि ये उन्हें किसी पुरुष के लिंग जैसा अहसास करवाती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

फायर ब्रिगेड में नियुक्तियों पर हाई कोर्ट का स्टे

कोलकाता : हाई कोर्ट के जस्टिस हरीश टंडन और जस्टिस शंपापाल दत्त के डिविजन बेंच ने फायर ब्रिगेड विभाग में 15 सौ नियुक्तियों पर अगले आगे पढ़ें »

ऊपर