क्या आप है पेट की गैस से हैं परेशान?

पेट की समस्याओं को कभी नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। पेट की गैस आपके कई अंगों को प्रभावित करती है। आज की तेजी से भागती दुनिया में जिन फूड्स का लोग नियमित रूप से सेवन करते हैं, वे ट्रांस वसा, शुगर और तेल से भरे होते हैं, जिसके परिणामस्वरूप पेट की समस्याएं हो जाती हैं। हालांकि गैस्ट्रिक समस्याओं से छुटकारा पाने के उपाय कई हैं, लेकिन आपको इनके बारे में पता होना चाहिए क्योंकि जब तक आप गैस्ट्रिक समस्या का उपाय नहीं तलाशते हैं तब तक इससे निजात पाना आसान नहीं है। पेट की समस्याओं को नजरअंदाज करने से पाचन तंत्र पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे अपच के साथ एसिडिटी की समस्या हो जाती है। इसी गैस्ट्रिक की समस्या से निजात पाने के लिए हम आपको कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे है। यहां हैं गैस्ट्रिक प्रोब्लम्स से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय
1. सौंफ के बीज

सौंफ के बीज पेट की समस्याओं के लिए आयुर्वेदिक उपाय हैं। इन्हें पाचन को बढ़ाने के लिए नियमित रूप से भोजन के बाद चबाया जाता है। फेनोकोन, एंथोले और एस्ट्रैगोल जैसे मूल्यवान पौधों के यौगिकों की उदार मात्रा में, सौंफ़ के बीज गैस्ट्रिक स्राव को उत्तेजित करते हैं। खाद्य कणों के अनियंत्रित प्रसंस्करण को सक्षम करते हैं और अपच और कब्ज के लक्षणों को कम करते हैं।

2. व्यायाम करने से बेहतर कुछ नहीं

शारीरिक गतिविधि की कमी पाचन विकारों के प्राथमिक कारणों में से एक है। कोई बात नहीं अगर आप घर के अंदर रह रहे हैं या व्यायाम करने के लिए बाहर जाने का मौका है, तो एक कार्यक्रम बनाएं, और रोजाना शारीरिक गतिविधि के लिए समय दें। कई इनडोर व्यायाम विकल्प हैं जैसे कि स्टेपर, थ्रेड-मिल, स्टेटिक साइकिल, आदि। वेट ट्रेनिंग भी की जा सकती है। नियमित व्यायाम से कब्ज, एसिड रिफ्लक्स, ब्लोटिंग के लक्षणों को कम किया जा सकता है।

3. योग

योग का अभ्यास करने से आपको शरीर और मन दोनों को बेहतर बनाए रखने में मदद मिल सकती है। यह तनाव के स्तर को कम करने में भी मदद कर सकता है। इसके साथ ही यह हार्मोन को नियंत्रण में लाने पाचन में सहायता करने और विश्राम को प्रेरित करने में काफी कारगर माना जाता है।

4. हेल्दी स्नैक्स

मूवी देखते समय या घर से काम करते समय ऑयली और जंक फूड्स के ऊपर हेल्दी स्नैक्स पसंद करते हैं। यह आपके पेट की समस्याओं का कारण बन सकता है। आप इसके लिए हेल्दी स्नैक्स पर स्विच कर सकते हैं। फल, सलाद, स्प्राउट्स, नट्स आदि जैसे स्वस्थ विकल्पों के लिए जाएं।

5. फाइबर का सेवन करें

फाइबर युक्त भोजन करना अच्छा है। फाइबर पेट कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाने के साथ गैस्ट्रिक समस्याओं को दूर करने में कारगर भूमिका निभाता है। फाइबर को अपने डेली डाइट में शामिल कर पेट की समस्याओं को दूर किया जा सकता है। ब्रोकोली, फूलगोभी, गाजर, बीन्स, मटर, और पालक का सेवन बढ़ाएं।

6. पानी

बिना किसी समस्या के पाचन इंजन को चालू रखने के लिए, अपने शरीर को पर्याप्त मात्रा में पानी की आपूर्ति करें। आप नारियल, नींबू पानी, न्यूनतम चीनी के साथ ताजा रस (या चीनी के बिना सबसे अच्छा) है, और वातित पेय को अलविदा कहें। इससे आपको गैस्ट्रिक समस्याओं को दूर रखने में मदद मिल सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘बंगाल की बेटी नहीं रोहिंग्या की खाला और घुसपैठियों की फूफी है’

कोलकाताः बंगाल चुनाव की घोषणा के बाद अब बयानबाजी तेज हो गयी है। भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने ममता बनर्जी पर बंगाल की बेटी को आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः ई-गीता और प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर अंतरिक्ष में भेजी गई

चेन्नईः भारत के ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान के जरिए रविवार को 19 उपग्रह अंतरिक्ष में भेजे गए। भारतीय रॉकेट पीएसएलवी-सी51 को रविवार सुबह 10.24 मिनट आगे पढ़ें »

ऊपर