मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फर्जी ईमेल बनाकर फ्रीलांस पत्रकार कर रहा था ये करतूत, गिरफ्तार

नई दिल्ली : विज्ञापन पाने के लिए योगी आदित्यनाथ की फर्जी ईमेल आईडी का इस्तेमाल करने के मामले में एक फ्रीलांस पत्रकार को गिरफ्तार किया गया है। ये गिरफ्तारी दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की साइबर सेल (आईएफएसओ) यूनिट ने की है। आरोपी का नाम मुकेश कुमार सेठ है, जो भुवनेश्वर, ओडिशा का रहने वाला है। मुकेश पर आरोप है कि उसने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम पर एक ईमेल आईडी तैयार की और उस ईमेल आईडी से पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, ओएनजीसी और गेल जैसे सार्वजनिक क्षेत्रों की कंपनियों को मेल भेजकर समाचार पत्रों को विज्ञापन देने का दवाव डाला था।

क्या है मामला

आईएफएसओ यूनिट के डीसीपी केपीएस मल्होत्रा ने बताया कि योगी आदित्यनाथ के पीएस राजभूषण सिंह रावत ने वर्ष 2016 में साइबर सेल, ईओडब्ल्यू, दिल्ली के पास शिकायत दी थी कि किसी ने योगी आदित्यनाथ की फर्जी ईमेल आईडी [email protected] बनाकर अलग-अलग पब्लिक सेक्टर यूनिट संस्थानों से अखबारों के लिए विज्ञापन मांगे हैं। ईमेल के साथ योगी आदित्यनाथ के फर्जी हस्ताक्षर वाले लेटर भी भेजे गए थे।

एक्सटॉर्शन का मामला भी मुकेश के खिलाफ दर्ज

पुलिस ने आरोपी मुकेश की तलाश में कई जगह छापेमारी की लेकिन वह पकड़ में नहीं आया। आखिरकार उसे भुवनेश्वर से पकड़ लिया गया। पुलिस ने बताया कि 2020 में मुकेश के खिलाफ ओडिशा के कटक में भी एक अधिकारी से एक्सटॉर्शन का मामला दर्ज है। पूछताछ के दौरान मुकेश ने खुलासा किया कि वह फ्रीलांस पत्रकार है और एक वीकली अखबार में काम करता है। वह अपने लोकल अखबार के लिए विज्ञापन चाहता था इसलिए उसने इस तरीके के हथकंडे को अपनाया।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

11 दिसंबर को टेट की परीक्षा, 11000 से अधिक है वैकेंसी

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि  दुर्गा पूजा के बाद दिसंबर के दूसरे सप्ताह में प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति के आगे पढ़ें »

पौधे लगा रहे किसान के खेत से निकला ‘बेशकीमती खजाना’!

नई दिल्ली : एक किसान पौधा लगाने के लिए जमीन खोद रहा था तभी उसका कुदाल किसी शख्त चीज से टकराने लगी। उसने अपने बेटे आगे पढ़ें »

ऊपर