झारखंड में फिर सामने आई मॉब लिंचिंग की घटना, दो महिलाओं समेत चार लोगों की पीटकर हत्या

mob lynching in jharkhand

झारखंडः देश में भीड़ द्वारा हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। फिर एकबार मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई है। झारखंड के गुमला में जादू-टोने के संदेह में दो महिलाओं समेत 4 लोगों की लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।
12 लोगों पर केस दर्ज
बताया जा रहा कि रविवार की सुबह 3 बजे शिकारी गांव में यह घटना घटी। जिसमें चार लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। इस मामले में 12 लोगों को आरोपी बनाया गया है। इस दौरान घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। गुमला के एसपी अंजनी कुमार ने बताया कि मामले को देखते हुए ऐसा लग रहा कि पीड़ित जादू टोना में शामिल थे। अंधविश्वासों के चलते उनकी हत्या हुई है फिलहाल जांच चल रही है।
घरों को घेरकर किया हमला
बताया जा रहा कि लगभग 12 नकाबपोश लोगों ने गांव में मृतकों के घरों पर हमला किया। सभी को घर से उठाकर बाहर ले गए और लाठी डंडों से उनकी पिटाई की। इस पिटाई में चारों की मौत हो गई। मृतकों की पहचान फगनी देवी (65 वर्ष), चंपा भगत (65 वर्ष), सुना भगत (65 वर्ष) और पेटी भगत के रूप में हुई है।
2019 में झारखंड में हुई घटनाएं
बीते महीने तबरेज अंसारी नामक युवक के साथ भीड़ ने मारपीट की थी। इसका एक वीडियो सामने आया था जिसमें उसे जय श्री राम और जय हनुमान बोलने के लिए विवश करते दिखाया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान बाद में तबरेज की मौत हो गई थी। इसके अलावा मई महीने में गुमला में भीड़ ने चार लोगों को मरे बैल का मांस काटने के कारण जमकर पिटाई की थी जिसमे प्रकाश नामक व्यक्ति की मौत हो गई थी। वहीं मार्च महीने में पलामू में अपनी बहन के साथ छेड़खानी का विरोध करने के कारण वकील खान और दानिश खान को भीड़ ने पीटकर मार डाला था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जल्द ही बर्डे़ पर्दे पर वापसी करने जा रही हैं सुष्मिता सेन

मुंबई : बाॅलीवुड की मशहूर अभिनेत्री सुष्मिता सेन बड़े पर्दे पर अपनी वापसी के लिए तैयार हैं। पूर्व मिस यूनिवर्स ने अपने इंस्टाग्राम के जरिए आगे पढ़ें »

एनएचआरसी ने यौन उत्पीड़न मामले में त्रिपुरा सरकार को जारी किया नोटिस

नई दिल्ली : राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने सोमवार को त्रिपुरा सरकार और राज्य के पुलिस प्रमुख को नोटिस जारी किया है। यह नोटिस उन आगे पढ़ें »

ऊपर