प्रशांत किशोर को बड़ा झटका, पटना में दर्ज हुआ जालसाजी का केस

pk

पटना : चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को बिहार में बड़ा झटका लगा है। उनके खिलाफ पाटलिपुत्र थाने में जालसाजी के मामले में एफआईआर दर्ज की गई है। प्रशांत किशोर के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति की डिलीवरी के लिए प्रेरित करना) और 406 (आईपीसी के आपराधिक उल्लंघन के लिए सजा) के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। उन पर अपने अभियान ‘बात बिहार की’ में साहित्यिक चोरी का आरोप लगा है। किशोर के खिलाफा मोतिहारी के रहने वाले शाश्वत गौतम ने एफआईआर दर्ज कराई है। एफआईआर में एक अन्य युवक ओसामा का भी नाम है। ओसामा पटना विश्वविद्यालय में छात्र संघ सचिव का चुनाव लड़ चुका है। बताया जा रहा है कि मामला दर्ज करवाने वाले शाश्वत पूर्व में कांग्रेस के लिए काम कर चुके हैं। बता दें कि प्रशांत किशोर ने ही बिहार में ‘बात बिहार की’ कार्यक्रम लॉन्च किया था।

शास्वत गौतम ने पुलिस को दिए सबूत

दरअसल, शाश्वत गौतम ने  ‘बिहार की बात’ नामक एक प्रोजेक्ट बनाया था, जिसे भविष्य में लॉन्च करने की बात की जा रही थी। इस दौरान, ओसामा नामक एक युवक ने इस्तीफा दे दिया। आरोपों के अनुसार, उसने शाश्वत गौतम परियोजना (बिहार की बात) की सभी सामग्री प्रशांत किशोर को सौंप दी। इसके बाद प्रशांत किशोर ने उन सभी कंटेंट को अपनी वेबसाइट पर डाल दिया। सूत्रों के अनुसार, शाश्वत गौतम ने दावा किया है कि जिस प्रोजेक्ट पर वह काम कर रहे थे प्रशांत किशोर ने हूबहू उसी प्रोजेक्ट की नकल करते हुए ‘बात बिहार की’ अभियान की शुरुआत कर दी। शास्वत गौतम ने पुलिस को सबूत भी दिए हैं। उनका दावा है कि उन्होंने अपनी सामग्री के साथ जनवरी में ही वेबसाइट को पंजीकृत कर लिया था, जबकि प्रशांत किशोर ने अपनी वेबसाइट फरवरी में पंजीकृत करवाई थी।

पटना पुलिस के शीर्ष अधिकारी करेंगे निगरानी

वहीं मुकदमा दर्ज होने के बाद, पटना पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। जांच टीम धारा 420, 406 के तहत एफआईआर में कई दस्तावेजों की जांच करेगी। इस मामले में पटना पुलिस के शीर्ष अधिकारी निगरानी करेंगे, जिसके बाद मामला सही या गलत घोषित किया जाएगा। फिर आगे की कार्रवाई होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों को मेरे खेल के खत्म होने के बारे में लिखने की आदत है, मुझे फर्क नहीं : सुशील

नयी दिल्ली : दिग्गज पहलवान सुशील कुमार उम्र के ऐसे पड़ाव पर है जहां ज्यादातर खिलाड़ी संन्यास की घोषणा कर देते है लेकिन ओलंपिक में आगे पढ़ें »

कोरोना से हुए नुकसान को कम करने के लिए सरकार जल्द नए राहत पैकेजों की घोषणा करेगी

नई दिल्ली : कोरोना के कारण हुए लॉक डाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है। वित्त मंत्रालय लगातार राहत पैकेज पर आगे पढ़ें »

ऊपर