गधे की लीद, तेजाब और भूसे से बन रहे मसालों का भंडाफोड़

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। खाना बनाने वाले मसालों की मिलावट के आरोप में पुलिस ने मंगलवार को एक मसाला फैक्ट्री पर छापा मारा तो वह चौक गई। इस फैक्ट्री में गधे की लीद, सूखी घास, नकली रंग और तेजाब की मदद से नकली मसाले तैयार किए जा रहे थे।

पुलिस ने मसालों के 27 नमूनों को परीक्षण के लिए प्रयोगशाला भेजा है। संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा ने बताया कि कारखाना मालिक वार्ष्णेय को सीआरपीसी धारा 151 के तहत न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है और फैक्ट्री सील कर दी गई है। मीना ने कहा कि एक बार लैब टेस्ट के नतीजे आने के बाद खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा। पुलिस ने बताया कि उन्होंने फैक्ट्री से 300 किलो फर्जी मसाले जब्त किए हैं। हाथरस जिले के नवीपुर इलाके में छापे के दौरान पुलिस को लाल मिर्च पाउडर, धनिया पाउडर सहित कई मसाले मिले। गरम मसाला और हल्दी में गधे की लीद, रंगों, एसिड और घास का इस्तेमाल किया जाता था। सूत्रों के मुताबिक, इन मसालों को खतरनाक चीजों से बनाया जा रहा था।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोशल मीडिया के जरिये आज राजीव करेंगे ‘मन की बात’

सोशल मीडिया पर राजीव के समर्थक दे रहे हैं सुझाव, सोच-समझ कर निर्णय करें हावड़ा : राज्य के मंत्री राजीव बनर्जी आज फेसबुक लाइव होनेवाले हैं। आगे पढ़ें »

चुनाव में 60 से 80 सीटों पर लड़ सकती है सिद्दकी की नयी पार्टी

फुरफरा शरीफ के पीरजादा बनाएंगे मुस्लिम, दलितों और आदिवासियों की पार्टी 21 को होगा नाम का ऐलान सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने आगे पढ़ें »

ऊपर