वर्जिनिटि टेस्ट में फेल, शादी से पहले हुआ था रेप, 6 महीने बाद एफआईआर, जानिए…

भीलवाड़ा: वर्जिनिटी टेस्ट (कौमार्य परीक्षण) में फेल होने पर एक युवती से रेप मामले का खुलासा हुआ। दरअसल, राजस्थान के कुछ इलाकों में कुकड़ी प्रथा प्रचलन में है। इसके तहत ये पता चलता है कि लड़की वर्जिन है या नहीं। जब ससुराल वाले प्रताड़ित करने लगे तो लड़की ने बताया कि उसके साथ पड़ोसी ने बलात्कार किया था। घरवालों को बताने पर छोटे भाई की हत्या की धमकी दी थी। लड़की ने डर की वजह से घरवालों को इस घटना की जानकारी नहीं दी। 6 महीने बाद उसकी शादी हो गई। जिसके बाद कुकड़ी प्रथा से उसे गुजरना पड़ा, तब जाकर रेप मामले का खुलासा हुआ। अब लड़की की परिवार वालों की तरफ से केस दर्ज कराई गई है।
पड़ोसी पर युवती से रेप का आरोप

भीलवाड़ा शहर के सुभाष नगर थाना प्रभारी पुष्पा कांसोटिया ने बताया कि 23 मई को एक महिला ने अपनी बेटी के 6 महीने पहले हुए दुष्कर्म का मामला दर्ज करवाया है। एफआईआर में बताया गया है कि 20 नवंबर 2021 को वो अपने पति के साथ एक शादी समारोह में गई थी। घर में बेटी और दो बेटे अकेले थे। रात के समय बेटी जब शौच के लिए गई तो पड़ोसी शाहिद ने उसके साथ दुष्कर्म किया। शाहिद ने धमकी दी थी कि घरवालों को बताएगी तो उसके भाइयों को जान से मार देगा, इस कारण बेटी चुप रही।
शादी के बाद रेप का हुआ खुलासा
इसके बाद पीड़िता की 11 मई को शादी हो गई। ससुराल विदा कर दिया गया। बेटी के ससुराल में सुहागरात के दिन जब वर्जिनिटी टेस्ट के लिए कुकड़ी की रस्म में वो फेल हो गई तब उसने अपने साथ हुए दुष्कर्म के बारे में बताया। दुष्कर्म पीड़िता युवती के खिलाफ सामाजिक पंचायत बुलाकर अर्थ दंड देने की तैयारी की सूचना पर राज्य महिला आयोग ने संज्ञान लिया। इस संबंध में भीलवाड़ा जिला पुलिस से रिपोर्ट मांगी है।
जागरूक करने के लिए पुलिस करेगी प्रयास
भीलवाड़ा पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने कहा कि ये सामाजिक कुप्रथा है, जिसे एनजीओ और सामाजिक संगठनों के माध्यम से पुलिस समाप्त करने का प्रयास करेगी। इस संबंध में किसी भी प्रकार की सामाजिक पंचायत को रोकने के भी निर्देश जारी दिए गए हैं। पड़ोसी के खिलाफ दर्ज कराए गए दुष्कर्म के मामले में भी कार्रवाई की जा रही है।वर्जिनिटी से जुड़ी कुकड़ी प्रथा को जानिएमहिलाओं की वर्जिनिटी से जुड़ी कुकड़ी प्रथा है। इसमें शादी की पहली रात को नवविवाहिता को सफेद कपड़ा या कच्चे धागे का गट्‌ठा दिया जाता है। ब्लड के निशान आते है तो विवाहित को सही माना जाता है। ये अपने आप में सामाजिक अपराध है। कई मामलों में लड़कियों को प्रताड़ना का शिकार होना पड़ता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आटा के बाद अब चावल भी महंगा…

नई दिल्ली : गेंहू के दामों में उछाल के बाद अब चावल  के दामों में तेजी देखी जा रही है, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में आगे पढ़ें »

ऊपर