समाचार पत्र पढ़ने से #कोरोना नहीं होता : प्रकाश जावड़ेकर

पेपर या पैकेज को रिसीव करना सेफ : डब्ल्यूएचओ

नई दिल्ली/जिनेवा : दुनियाभर में महामारी का रूप धारण कर चुके कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर सोशल मीडिया पर बहुत सी अफवाहें चल रही हैं। उन्हीं को दूर कर सच्चाई सामने लाए हैं केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और विश्व स्वास्थ्य संगठन। समाचार पत्र यानी अखबार के कागज से कोरोना फैलने की अफवाह का खंडन करते हुए केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री ने​ ट्विट करके कहा कि ‘अफवाहों पर विश्वास न करें। समाचार पत्र पढ़ने से #कोरोना नहीं होता। समाचार पत्र और कोई भी काम करने के बाद साबुन से हाथ धोना है, इतना ही नियम है। समाचार पत्रों से हमें सही खबरें मिलती है।’ अखबार नहीं पढ़ेंगे तो ऐसी ही अफवाहें आप तक पहुंचेंगी। अगर ऐसी अफवाहों की बजाय सच्चाई जानना चाहते हैं तो अखबार जरूर पढ़ें।

पेपर या पैकेज को रिसीव करना सेफ : डब्ल्यूएचओ

यहां हम बतातें चले कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी इसे अफवाह करार दिया है। जानकारी के मुताबिक डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि पेपर या पैकेज को रिसीव करना सेफ है। अखबार के कारण कोरोना नहीं फैलता है। अखबार से संक्रमित होने की संभावना बिल्कुल कम है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह अलग-अलग तापमान और प्रोसेस से गुजरता है। इसीलिए इसके फैलने या रुकने की संभावना बिल्कुल ही कम है।

अखबार का कागज संक्रमित नहीं होता : मुख्य चिकित्साधिकारी

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एनएस तोमर ने कहा कि अखबार का कागज संक्रमित नहीं होता है। कोरोना वायरस को लेकर अखबार संक्रमित होने की अफवाह है। इस पर ध्यान नहीं देना चाहिए। तोमर ने कहा कि अखबार का कागज संक्रमित नहीं होता है।

मुख्यमंत्री ने दी अखबार बराबर पढ़ने की सलाह

सीएम ममता बनर्जी ने भी एक दिन पहले कहा था कि उन्हें जानकारी मिली है कि कई हॉकर्स संवादपत्र यानी अखबार (न्यूजपेपर) नहीं ले रहे हैं। मैं उनसे कहना चाहूंगी कि इस आपात परिस्थिति में अखबारों को राहत दी गयी है। अखबार लोगों को पढ़ना जरूरी है वरना दैनिक जीवन से जुड़ी बातें लोगों को कैसे पता चलेंगी। पुलिस प्रशासन से पूरा सहयोग करने के लिए कहा गया है। रास्ता में फैलाकर अखबारों को नहीं बेचें। गाड़ी से अखबार लेकर आएं। 5 – 5 हॉकर्स लाइन करके खड़े रहेंगे और उन्हें अखबार दे देंगे। इसके बाद जो घर – घर अखबार पहुंचाना चाहेंगे वे पहुंचा देंगे। सुबह 5 से 7 बजे के भीतर इस प्रक्रिया को पूरा कर लें।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

मैं गरीबों की मदद कर रहा था, इमरान के मंत्री छुट्टियां मना रहे थे : अफरीदी

इस्‍लामाबाद : शाहिद अफरीदी ने इशारों में इमरान खान सरकार पर निशाना साधा। अफरीदी के मुताबिक, इमरान सरकार में एकता की कमी है और ये आगे पढ़ें »

अक्टूबर तक फिर रिंग में लौट आयेंगे विजेंदर

नयी दिल्ली : पिछले छह महीने से रिंग से दूर भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह को अगले तीन महीने में रिंग में उतरने की आगे पढ़ें »

ऊपर