झारखंड में विलुप्त हो रही पहाड़िया समुदाय को मिली पहचान 

 

पाकुड़ : पाकुड़ जिले के लिट्टीपाड़ा प्रखंड के मखनी गांव में विलुप्त होने की कगार पर पहाड़िया समुदाय के लोगों की रक्षा के लिए सरकार कई तरह की योजना चला रही है लेकिन अभी भी कई जगहों पर और ध्यान देने की जरूरत है। सरकार के द्वारा लिट्टीपाड़ा प्रखंड कार्यालय स्थित ‘गुतु गलांग’ अभियान के तहत पहाड़िया समुदाय की महिलाओं को बोरा बनाने के काम में जोड़ा गया है, जिसमें 35 किलोग्राम अनाज भरके डाकिया योजना के तहत सभी लाभुकों के घरों तक पहुंचाया जाता है। राज्य का यह अकेला सेंटर है जहां से बोरा तैयार कर 24 जिलों में भेजा जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल के और भी विधायक छोड़ेंगे पार्टी, क्या ममता उनकी सीटों से भी चुनाव लड़ेंगी : शुभेन्दु

नंदीग्राम : भाजपा में हाल ही में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी ने मंगलवार को दावा किया कि आने वाले दिनों में और भी विधायक तृणमूल आगे पढ़ें »

बीएसएफ के 2 अधिकारियों को पुलिस मेडल

कोलकाता : गणतंत्र दिवस के अवसर पर दक्षिण बंगाल फ्रंटियर, सीमा सुरक्षा के 2 अधिकारियों को राष्ट्र की सेवाओं मे अपने उत्कृष्ठ योगदान हेतु सम्मानित आगे पढ़ें »

ऊपर