बिजली मुफ्त नहीं, कम दर पर देनी चाहिए : नीतीश कुमार

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल फागू चौहान के 24 फरवरी को बिहार विधानमंडल के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में अभिभाषण पर बिहार विधानसभा में चर्चा के बाद सरकार की ओर से जवाब देते हुए दिल्ली और पंजाब का संदर्भ देते हुए कहा कि बिजली कभी भी मुफ्त नहीं कम दर पर देनी चाहिए।
नीतीश कुमार ने कहा कि कुछ लोग बिजली मुफ्त दिए जाने की बात करते हैं। इससे बढ़कर कोई दूसरा गलत काम हो ही नहीं सकता और यह काम पंजाब ने शुरू किया। क्या बुरी हालत पंजाब ने कर दी? अगर दिल्ली में 200 यूनिट बिजली मुफ्त देने से किसी को वोट मिल गया पर उसकी क्या स्थिति होने वाली यह पता नहीं है? बिजली कम दर पर देनी चाहिए लेकिन मुफ्त नहीं देनी चाहिए। नीतीश कुमार ने कहा कि दिल्ली में मुख्य सड़कों को छोड़कर भीतर के इलाके में जाएं तो दिखेगा तो किस तरह के जर्जर बिजली के तार हैं, एक साथ चार-पांच तार लटके हुए हैं और उसी से घटनाएं घटती हैं।
उन्होंने कहा, ‘इस स्थिति को समझ लीजिए और हमलोगों ने अपने बिहार में जो कि पिछड़ा, गरीब और बहुत ज्यादा आबादी वाला राज्य है, सारे जर्जर तार बदल दिये हैं।’ नीतीश कुमार ने कहा कि कृषि फीडर के तहत बिहार के किसानों को खेतों की सिंचाई के लिए मात्र 75 पैसे प्रति यूनिट की दर बिजली उपलब्ध करायी जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसिडिटी और जलन के कारण हो गए हैं परेशान तो अब अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

कोलकाता : खानपान में थोड़ी सी लापरवाही के कारण सीने में जलन और एसिडिटी की समस्या हो जाती है। इस समस्या से जब तक निजात आगे पढ़ें »

ऊपर