कोरोना से बचने के लिए रोज पीता था 5 लीटर पानी, आईसीयू में होना पड़ा भर्ती

नई दिल्ली : पानी किसी भी जीवित प्राणी के अस्तित्व के लिए कितना जरूरी है, इसे बताने की जरूरत नहीं है लेकिन जैसे किसी भी चीज की अति बुरी होती है, यही बात पानी को लेकर भी लागू होती है। हाल ही में ऐसा ही देखने को मिला जब इंग्लैंड में एक शख्स के अत्यधिक पानी पीने के चलते बेहद गंभीर हालात हो गई थी।

34 साल के सिविल सर्वेंट ल्यूक विलियमसन इंग्लैंड के ब्रिस्टल शहर में अपने परिवार के साथ रहते हैं। ब्रिटेन में रहने वाले ल्यूक को लगता था कि वे कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं और उन्हें लगा कि अगर वे अपनी पानी की मात्रा को डबल कर देंगे तो वे इस बीमारी को हराने में कामयाब होंगे।

आमतौर पर सामान्य इंसान को दिन में एक से दो लीटर पानी पीने की सलाह दी जाती है हालांकि ल्यूक ने अपनी पानी की मात्रा को बढ़ाते हुए इसे 4-5 लीटर कर दिया था जिसके चलते उनके शरीर में सोडियम का स्तर खतरनाक तरीके से कम हो गया था। यही वजह है कि ल्यूक एक दिन लड़खड़ा कर गिर पड़े।

ल्यूक की पत्नी का कहना था कि ‘वे शाम को नहाने गए थे और अचानक बाथरूम में लड़खड़ा कर गिर गए। मैंने एंबुलेस बुलाई तो वो 45 मिनटों बाद आई लेकिन इस एंबुलेस के आने के 20 मिनट पहले तक ल्यूक बेहोश पड़े थे और किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं दे रहे थे जिसकी वजह से मुझे काफी स्ट्रेस हो रहा था।

उन्होंने आगे कहा कि हालांकि जब हम आखिरकार डॉक्टर्स के पास पहुंचे तो उन्होंने बताया कि वे कई दिनों से काफी ज्यादा पानी पी रहे हैं जिसके चलते उनके शरीर में सॉल्ट लेवल बहुत कम हो चुका था और इसी के चलते ल्यूक के हालात इतने बिगड़ गए थे। उन्हें दो-तीन दिनों तक आईसीयू में रखा गया। वे वेंटिलेटर पर थे। फिलहाल ल्यूक अब अपनी हेल्थ पर फोकस कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

रोजवैली मामले में सीबीआई ने शुभ्रा कुंडू को किया ​गिरफ्तार

आज भुवनेवर कोर्ट में किया जाएगा पेश कोलकाता : 17000 करोड़ के बंगाल के सबसे बड़े घोटाले रोजवैली कांड में सीबीआई की टीम ने गौतम कुंडू आगे पढ़ें »

मेरी मातृभाषा गुजराती है और हिंदी मेरी मौसी है : आरजे वशिष्ठ

कोलकाताः "कोलकाता से मेरा नाता काफी पुराना है। सिटी ऑफ जॉय कहे जाने वाले इस शहर का नाम ही इतना प्यारा है तो इस जगह आगे पढ़ें »

ऊपर