गुरुवार को इन चीजों का दान करके अपने भाग्य को बनाए प्रबल

कोलकाता: आज गुरुवार का दिन है और यह दिन भगवान विष्णु और देव गुरु बृहस्पति की पूजा अर्चना के लिए है। पूरी श्रद्धा भाव से आप इन दोनों देवताओं की विधि विधान से पूजा-अर्चना करके अपनी मनोकामनाएं पूरी कर सकते हैं। ऐसी मान्यता है की अगर आपके विवाह में विलंब हो रहा है तो भगवान विष्णु और देव गुरु बृहस्पति की पूजा अर्चना करके आप उनकी कृपा से विवाह में होने वाली देरी को दूर कर सकते है। जिनको कार्यों में सफलता नहीं मिलती है, काम का यश प्राप्त नहीं होता है, ऐसे लोगों को गुरुवार व्रत और भगवान विष्णु की पूजा करनी चाहिए। यदि आप गुरुवार को पूजा पाठ नहीं कर सकते हैं या व्रत नहीं रख सकते हैं, तो इस दिन कुछ वस्तुओं का दान करके भी लाभ प्राप्त कर सकते हैं

किन वस्तुओं का दान करके आप सफलता प्राप्त कर सकते है

1. गुरुवार के दिन हल्दी का दान करने से विवाह में होने वाली देरी या कोई भी बाधा हो, वो दूर हो जाती है।

2. आपके जीवन में कई प्रकार की समस्याएं हैं, उनसे आप मुक्ति चाहते हैं, तो गुरुवार के दिन किसी विष्णु मंदिर में जाकर श्रीहरि का दर्शन करें और सुराही दान करें।

3. आप कोई भी काम शुरु करते हैं, तो उसमें विघ्न बाधा आ जाती है या फिर बनता हुआ काम बिगड़ने लगता है, तो ऐसे में गुरुवार के दिन पीला वस्त्र किसी गरीब ब्राह्मण को दान कर दें। आपका काम बनने लगेगा। कार्यों में सफलता प्राप्त होगी।

4. यदि आपकी नौकरी में कोई समस्या आ रही है, तो आपको गुरुवार के दिन विष्णु मंदिर में जाकर श्रीहरि को बेसन के लड्डू और केले का भोग लगाएं। फिर इनका ही दान करें। आपकी समस्या दूर हो सकती है।

5. गुरु ग्रह के दोष या उसकी पीड़ा से परेशान हैं, तो गुरुवार के दिन स्नान के बाद चने की दाल, हल्दी, नमक, पीले वस्त्र, केला, पीले फूल, कांसे के बर्तन, सोना आदि का दान किसी गरीब ब्राह्मण को करें।

6. आपको किसी कार्य में आपके भाग्य का साथ नहीं मिल रहा है, आप अपने भाग्य को प्रबल करना चाहते हैं तो गुरुवार के दिन पीले रंग के अन्न जैसे चने की दाल, पीले चावल आदि का दान करें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुर्गापुर में झूला से गिरकर किशोरी हुई घायल

दुर्गापुर: दुर्गापुर थाना क्षेत्र अंतर्गत भिरंगी मोड़ स्थित नबारुण द्वारा आयोजित दुर्गापूजा मेला में झूला से गिरकर एक किशोरी बुरी तरह जख्मी हो गई।वहीं जख्मी आगे पढ़ें »

पानी के बहाव में बह गया बच्चा, कोशिश की मगर हाथ नहीं आया

सन्मार्ग संवाददाता मालबाजार/कोलकाता : दशमी की रात लगभग 8.30 बजे मालबाजार की माल नदी में प्रतिमा विसर्जन के समय हरपा बाढ़ में 8 लोगों की मौत आगे पढ़ें »

ऊपर