आपको भी आता है ज्यादा गुस्सा? इन तरीकों को अपनाकर करें कम

कोलकाता : कई बार ऐसा होता है कि हमें बहुत गुस्सा आता है जिस पर काबू करना हमारे बस के बाहर हो जाता है। गुस्सा या फिर ओवरथिंकिंग की समस्या ज्यादातर लोगों में होती है और जब यह चीजें बस के बाहर जाने लगती हैं। ऐसे में डिप्रेशन की भी समस्या हो सकती है। ऐसा होना नहीं चाहिए लेकिन कई समस्याओं से जूझते हुए रोजमर्रा की जिंदगी से परेशान होते हुए यह सारी परेशानियां खड़ी हो जाती है। कई बार तो यह भी होता है कि हम चाहते हैं कि हमें गुस्सा ना आए और जब हमें गुस्सा आएगा तो हम उस पर काबू कर लेंगे पर असलियत में जब वक्त आता है तब हमारा खुद पर से और हमारे गुस्से पर से काबू हट जाता है जिससे चीजें खराब हो जाती है, चलिए हम यहां आपको कुछ ऐसे टिप्स बताएंगे जिन्हें अपनाकर आप अपने गुस्से को कंट्रोल कर सकते हैं। साथ ही साथ ओवरथिंकिंग पर भी काबू पा सकते हैं।
गुस्से पर काबू कैसे करें ?
हमारे दिमाग में जैसे ही निगेटिव थॉट्स आते हैं, उसके कारणवश हम फ्रस्ट्रेशन के शिकार होने लगते हैं और जिसका परिणाम यह होता है कि हम गुस्सा करने लगते हैं या फिर अपनों से ऊंची आवाज में बात करने लगते हैं जो कि किसी भी तरीके से सही नहीं है। अगर आपको गुस्सा आ रहा है तो खुली हवा में जाए। पहले और अपने दिमाग को शांत कर लें। अगर आपको ज्यादा गुस्सा आ रहा है तो ऐसे में कुछ भी ना बोले क्योंकि जब हम गुस्से में होते हैं तो हमारे मुंह से कई बातें ऐसी निकल जाती हैं जिसका हमें बाद में अफसोस होता हैं। साथ ही आप एक्सरसाइज कर सकते हैं। एक्सरसाइज आपके मन को शांत भी रखेगा और साथ ही साथ आप इसको करने के बाद अच्छा भी फील करेंगे। यदि आपका गुस्सा कंट्रोल नहीं हो रहा है। ऐसे में आप हेड बाथ लें, आपको अच्छा महसूस होगा। अपने गुस्से पर कंट्रोल पाने के लिए आप डीप ब्रीथिंग एक्सरसाइज भी कर सकते हैं।
ओवरथिंकिंग को कैसे रोकें?
हमारी रोजमर्रा की जिंदगी में हो रहे काम का इफेक्ट हमारे दिमाग पर पड़ता है, जिसके कारण भी ओवरथिंकिंग हो सकती है। ऐसे में सबसे पहले आपकी जिम्मेदारी बनती है कि आप अपने आप को ऑब्जर्व करें। अगर आप काफी देर से एक ही चीज के बारे में सोच रहे हैं तो उसे तोड़ने की कोशिश करें। यह थिंकिंग, ओवरथिंकिंग के रूप में बदल जाती है जिससे कि आपको परेशानी होती है और ओवरथिंकिंग हमें खराब स्थिति में ले जा सकती है। हर इंसान की सोचने और समझने की शक्ति अलग होती है। अगर आप किसी परेशानी से जूझ रहे हैं और आप किसी की मदद लेते हैं। यह आपके लिए ही हेल्दी रहेगा। किसी को अगर आपको दुख हो डिप्रेशन या फिर एंड लाइटिंग हो रही हो। ऐसे में आप एक्सपर्ट की भी सलाह ले सकते हैं। अपने आप को किसी से भी कम ना आंकें और ना ही अपनी मानसिक स्थिति को जज करें। हर चीज सही होने में समय लेती है पर कोशिश करना बिल्कुल ना छोड़े।

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वास्थ्य साथी के बावजूद अस्पताल ने वसूले रुपये, लगाया गया जुर्माना

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्वास्थ्य साथी कार्ड दिखाकर अस्पताल में भर्ती होने के बावजूद मरीज के परिजनों से नकद रुपये लिये जाने का आरोप न्यूटाउन के आगे पढ़ें »

प्रेमिका की हत्या कर शव को दफनाया

खड़गपुर : पश्चिम मिदनापुर जिले के खड़गपुर लोकल थाना इलाके के एक गांव में रहने वाली एक महिला को मार कर दफना दिए जाने के आगे पढ़ें »

ऊपर