क्या आप भी सर्दियों में रात को स्वेटर पहनकर सोते हैं?

नई दिल्ली : इन दिनों सर्दियों का मौसम चल रहा है, जिसके चलते इंसान ठिठुरने को मजबूर हो जाता है। सर्दियों के इस मौसम में खुद को गर्म रखने के लिए लोग ऊनी कपड़ों के बहुत सारे लेयर पहनते हैं जिससे शरीर की गर्माहट बाहर ना जाए। ऊनी कपड़े दरअसल हीट कंडक्‍टर होते हैं जो शरीर से निकलने वाली गर्मी को लॉक कर देते हैं जिससे बॉडी गर्म रहती है। उत्तर भारत में ठंड इतनी ज्यादा होती है कि लोग रात को सोते वक्त भी गर्म कपड़े पहनकर सोते हैं लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि यह छोटी सी गलती लोगों की सेहत को काफी नुकसान पहुंचाती है। आइए आपको बताते हैं रात में ऊनी कपड़ों को पहनकर सोने के नुकसान।
ठंड को कैसे रोकती है ऊन?
विशेषज्ञों का कहना है कि ऊन के रेशों में काफी गर्मी होती है, यूं कहें कि ऊन ऊष्मा का कुचालक होता है, जिनमें बड़ी मात्रा में एयर ट्रैप हो जाते हैं। यही वजह है कि ऊनी कपड़े पहनकर हम ठंड से बचे रहते हैं, लेकिन इसका असर हमारे शरीर और सेहत पर पड़ता है।
हो सकती है ये शिकायत
कुछ डॉक्टर्स का कहना है कि सर्दियों के मौसम में रक्तवाहिनियां सिकुड़ जाती हैं और जब हम ऊनी कपड़े पहनकर रजाई के अंदर सोते हैं तो अत्‍यधिक गर्मी से कभी-कभी बेचैनी, घबराहट, ब्लड प्रेशर लो होने जैसी शिकायत हो सकती है। ऐसे में शरीर तो गर्म बना रहता है लेकिन शरीर के अंदर की गर्मी बाहर नहीं निकल पाती है। ऐसे में जब भी सोएं तो कॉटन के कपड़े ही पहनकर सोएं।
रेशैज या खुजली होना
घबराहट के अलावा सर्दियों में ऊनी कपड़े पहन कर सोने से स्किन पर भी असर देखने को मिलता है। स्किन एक्सपर्ट्स की मानें तो, कुछ लोगों को ऊन की वजह से एलर्जी भी सकती है। इसके लक्षण हैं, खुजली की समस्या, स्किन पर रैशेज हो जाना, चिड़चिड़ी आंखें, नाक बहना और खांसी। अगर आपको भी ऐसी समस्या होती है तो, एक बार जांच करवा लें की कहीं आपको ये दिक्कतें आपके ऊन से तो नहीं हो रही।
हार्ट पेशेंट्स को होती हैं दिक्कतें
जानकारों की मानें तो, आम लोगों के मुकाबले डायबिटीज और हार्ट के मरीजों को इन बातों का खास ख्याल रखना चाहिए। सर्दियों में ऊनी कपड़ों के फाइबर हमारी शरीर की गरमी को लॉक कर देते हैं। ऐसे में ये गर्मी डायबिटीज के मरीजों और खासकर हार्ट के मरीजों के लिए खतरनाक बन सकता है।
ऊनी कपड़ों को पहनने से पहले करें ये उपाय
लेकिन अगर फिर भी आप स्वेटर पहनकर सोना चाहते हैं तो, ऊनी कपड़े को पहनने से पहले सूती या रेशम के कपड़े पहनें। बहुत मोटे ऊनी कपड़े के बजाय गर्म रखने वाले कुछ हल्के कपड़े को प्रिफर करें। गर्म कपड़ों को पहनने से पहले मॉइस्चराइज कर लें।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

आजम खान के रामपुर में बदल गया गेम, बीजेपी हुई आगे

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश की चर्चित रामपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सियासी तस्वीर बदलती दिख रही है। 28वें राउंड की काउंटिंग के आगे पढ़ें »

गुजरात में भूपेंद्र पटेल ही बनेंगे मुख्यमंत्री

गुजरात : गुजरात विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की प्रचंड जीत के बाद भूपेंद्र पटेल ही गुजरात के मुख्यमंत्री बनेंगे। गुजरात भाजपा अध्यक्ष CR आगे पढ़ें »

ऊपर