आज मार्गशीर्ष अमावस्‍या पर कर लें नमक का यह अचूक टोटका, होंगी सारी परेशानियां खत्म

कोलकाता : भगवान श्रीकृष्‍ण के प्रिय महीने मार्गशीर्ष माह की अमावस्‍या आज यानी 23 नवंबर 2022, बुधवार को है। अमावस्‍या तिथि पितरों की तिथि होती है। इस दिन तर्पण और स्‍नान-दान करने का बड़ा महत्‍व है। इसके अलावा जिन लोगों की कुंडली में पितृ दोष होता है, उन्‍हें अमावस्‍या के दिन कुछ उपाय कर लेना चाहिए। अमावस्‍या के दिन किए गए उपाय जीवन की ढेरों परेशानियों, बाधाओं से निजात दिलाते हैं।
इन समस्‍याओं से निजात दिलाएंगे अमावस्‍या के उपाय
यदि घर में अशांति हो, कलह-झगड़े होते हों, विवाह में बाधाएं आ रही हों, संतान संबंधी परेशानियां, नौकरी-व्‍यापार में समस्‍याएं होना, बार-बार बीमार होना, कामों में बाधाएं आने जैसी समस्‍याएं हों तो अमावस्‍या के उपाय खासी राहत दिला सकते हैं। घर की नकारात्‍मकता दूर करने के लिए भी अमावस्‍या का दिन बहुत खास है।
अमावस्या पर करें उपाय
– मार्गशीर्ष अमावस्‍या के दिन पूरे घर में नमक मिले पानी से पोंछा लगाएं। ऐसा करने से घर की नकारात्‍मकता दूर होगी। झगड़े-कलह खत्‍म होंगे, बाधाएं, परेशानियां दूर होंगी। इसके लिए पोछे के पानी में कम से कम 2 चम्‍मच समुद्री नमक मिलाएं।
– मार्गशीर्ष अमावस्या के दिन पवित्र नदी में स्‍नान करें और गरीबों-जरूरतमंदों को दान अवश्‍य करें। इससे पितृ प्रसन्‍न होते हैं। यदि पवित्र नदी में जाकर स्‍नान नहीं कर पा रहे हों तो घर पर ही पवित्र नदी के जल मिले पानी से नहाएं।
– पितृ दोष से निजात पाने का अच्‍छा तरीका है किसी गरीब कन्‍या के विवाह में मदद करना। इससे पितृ दोष शांत होता है और जीवन में सुख-समृद्धि आती है।
– अमावस्‍या के दिन पानी में दूध, काला तिल, अक्षत, फूल, मिश्री आदि मिलाकर दोपहर में पीपल के पेड़ पर चढ़ाएं। इस दौरान पितृ देवाय नम: मंत्र का जाप करें। इससे पितृ दोष से राहत मिलती है।
– अमावस्‍या की शाम को पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इससे शनि दोष भी दूर होता है।

 

Visited 178 times, 1 visit(s) today
शेयर करें

मुख्य समाचार

यात्रियो सावधान! चुनाव के दौरान कम चलेंगी बसें

कोलकाता : लोकसभा चुनाव की शुरुआत अब होने ही वाली है और आगामी 19 तारीख को पहले चरण का चुनाव है। ऐसे में कहा जा आगे पढ़ें »

Patanjali Advertisement Case : पतंजलि ने सुप्रीम कोर्ट में फिर माफी मांगी लेकिन …

नई दिल्ली: भ्रामक विज्ञापन मामले पर पतंजलि आयुर्वेद के खिलाफ अवमानना पर सप्रीम कोर्ट में योगगुरु बाबा रामदेव को आज भी माफी नहीं मिली। उनको आगे पढ़ें »

ऊपर