रोजाना सुबह उठते ही मुख्य द्वार पर करें ये 5 काम, हमेशा के लिए दूर हो जाएगी आर्थिक तंगी

कोलकाता : किसी भी घर में उसका प्रवेश द्वार सबसे अहम माना जाता है। मान्यता है इसी प्रवेश द्वार के जरिए घर में सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा घर में प्रवेश करती है। कहा जाता है कि अगर आप अपने घर को नकारात्मक शक्तियों से मुक्त रखना चाहते हैं तो उसके मुख्य द्वार को वास्तु दोष से मुक्त रखें। मुख्य द्वार का वास्तु सही कर देने से उसमें अवांछित शक्तियां प्रवेश नहीं कर पाती और परिवार पर मां लक्ष्मी की कृपा दृष्टि बनी रहती है। आज हम आपको कुछ ऐसे काम बताने जा रहे हैं, जिन्हें करने से घर पर भगवान की हमेशा कृपा बनी रहती हैं…
* घर के मुख्य द्वार पर बनाएं रंगोली
वास्तु शास्त्र के अनुसार अगर आपके पास सुबह समय होता है तो मुख्य द्वार के दोनों ओर आटे से रंगोली बनाएं। रोजाना समय न हों तो हफ्ते में एकाध बार भी रंगोली बना सकते हैं। ऐसा करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और परिवार पर उनकी कृपा बरसती है।
* वास्तु के मुताबिक सुबह उठकर सबसे पहले भगवान को नमन करना चाहिए। उसके बाद मुख्य द्वार की देहरी को पानी से धोना चाहिए। आप चाहे तो इसमें थोड़ी सी हल्दी डाल सकते हैं। ऐसा करने से परिवार की आर्थिक तंगी दूर होती है और परिवार में कभी भी पैसों की कमी नहीं रहती।
* देवी-देवताओं के लगाएं प्रतीक चिह्न
घर में खुशहाली लाने के लिए उसके मुख्य द्वार पर ओम, श्री गणेश या मां लक्ष्‍मी के चरण चिन्ह और शुभ लाभ का प्रतीक चिन्ह लगाने चाहिए। ऐसा करने से घर में हर समय सकारात्मक शक्तियों का वास रहता है और नकारात्मक शक्तियां घर में नहीं घुस पातीं। सुबह उठने के बाद इन प्रतीक चिन्हों के पास जाकर उन्हें प्रणाम जरूर करें।
* वास्तु के अनुसार घर के मुख्य द्वार पर तोरण लगाना शुभ माना जाता है। यह तोरण आम, पीपल या फिर अशोक के पत्तों से बनता है। यह तोरण द्वार घर में खुशहाली लाता है और परिवार में सुख-समृद्धि बढ़ती है।
* नहाने के बाद मुख्य द्वार पर लगाएं स्वास्तिक
रोजाना नहाने के बाद घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक का निशान लगाएं। ऐसा करने से परिवार के लोगों से बीमारी दूर रहती है। साथ ही आर्थिक तंगी से भी निजात मिलती है। इससे परिवार में खुशहाली आती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पर हमारा अनशन जारी रहेगा : कहा हाई कोर्ट में

आरजीकर के आंदोलनकारी छात्र 29 को मिलेंगे स्वास्थ्य सचिव से सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : हाई कोर्ट के जस्टिस देवांशु बसाक और जस्टिस रवींद्रनाथ सामंत के डिविजन बेंच आगे पढ़ें »

ऊपर