रविवार को ऐसे करें सूर्य उपासना ! सारी मन्नतें होंगी पूरी

कोलकाता : सूर्य को जीवन, सेहत एवं शक्ति के देव के रूप में पूजा जाता है। मान्यता है कि सूर्यदेव की कृपा से ही पृथ्वी का अस्तित्व बरकरार है। रविवार चूंकि सूर्य देव को समर्पित दिन माना जाता है, इसलिए इस दिन सूर्य को जल चढ़ाने, सूर्य मंत्र का जाप एवं सूर्य नमस्कार करने से जातक को सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है।
रविवार का महात्म्य
हिंदू धर्म शास्त्र के अनुसार सप्ताह के हर दिन किसी न किसी देवता को समर्पित होता है। मान्यतानुसार रविवार का दिन भगवान विष्णु एवं सूर्य देव का दिन होता है। सूर्य देवता की पूजा एवं जल अर्पित करने से जीवन में यश, वैभव, मान-सम्मान में वृद्धि होती है। सारे पाप मिट जाते हैं, और अगर आपका धन कहीं फंसा हुआ है तो वह आपको प्राप्त होता है। यह दिन सप्ताह के सभी दिनों में सर्वश्रेष्ठ बताया गया है। इस दिन सूर्य-पूजा के पश्चात करीब के मंदिर में जाकर विष्णु जी की पूजा-अर्चना करनी चाहिए।
रविवार व्रत करने से मिलने वाले लाभ
रविवार के दिन सूर्य उपासना एवं सूर्य के नाम का व्रत रखने से मान-सम्मान में वृद्धि होती है। व्यक्ति की सोई हुई किस्मत जागती है। इस वजह से नौकरी एवं व्यवसाय संबंधी परेशानियां दूर होती हैं। सूर्य देव के प्रसन्न होने से समस्त अशुभ फल भी शुभता में बदल जाते हैं। हमें सूर्य नमस्कार करना चाहिए, इससे बुद्धि, विद्या, वैभव, तेज की प्राप्ति होती है।
रविवार के दिन निम्न ना करें…
* तेल और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।
* ऐसे कार्यों से बचें, जिसमें किसी भी तरह से दूध जलता हो ।
* रविवार के दिन मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिए।
* इस दिन शरीर पर तेल की मालिश से भी बचना चाहिए ।
* रविवार को तांबे की धातु खरीदना भी अपशकुन माना जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भाटपाड़ा में भाजपा सांसद के घर पहुंचे एनआईए अधिकारी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बैरकपुर के सांसद सह प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह के भाटपाड़ा स्थित निवास स्थल पर बमबारी मामले में जांच के लिए आगे पढ़ें »

ऊपर