न करें सोने के बिछिया पहनने की गलती, पति-पत्‍नी दोनों को चुकानी पड़ेगी बड़ी कीमत!

कोलकाता : हिंदू धर्म में सुहागिन महिलाओं के लिए कुछ जरूरी नियम बताए गए हैं। इसमें उनके आभूषणों से जुड़े नियम भी शामिल हैं। भारतीय संस्‍कृति में सुहागिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करती हैं। ये गहने सोने-चांदी, हीरे-जवाहरात के होते हैं। लेकिन कुछ गहने ऐसे होते हैं, जो सिर्फ चांदी के ही पहने जाते हैं। इन गहनों को सोने से बनाकर पहनने की सख्‍त मनाही की गई है। ये गहने हैं पैरों में पहने जाने वाले पायल और बिछिया। हिंदू धर्म में सोने के पायल-बिछिया पहनना वर्जित बताया गया है। आइए जानते हैं सोने की बिछिया और पायल न पहनने के धार्मिक-ज्‍योतिषीय कारण।
सोने के बिछिया पहनना होता है अशुभ
सुहागिन महिलाओं को केवल चांदी के ही बिछिया पहनने चाहिए। सोने के बिछिया पहनना अशुभ माना गया है। धर्म-शास्‍त्रों के मुताबिक महिलाओं को सिर से लेकर कमर तक ही सोने के गहने पहनना चाहिए। पैरों में सोना पहनना अशुभ होता है। दरअसल चांदी का संबंध चंद्र ग्रह से है। वहीं सोने का संबंध मां लक्ष्‍मी से है और पैरों में पहनने से उनका अनादर होता है इसलिए सोने को पैरों में नहीं पहनना चाहिए। वहीं वैज्ञानिक दृष्टि से बात करें तो चांदी की तासीर ठंडी होती है और यह पैरों को लाभ देती है।
बिछिया पहनने का ये नियम भी रखें ध्‍यान
सोने की बिछिया न पहनने के अलावा इससे जुड़े कुछ और नियमों का पालन करना भी अहम माना जाता है। इसके मुताबिक महिलाओं को ना तो किसी के बिछिए पहनना चाहिए और ना ही किसी को देना चाहिए। ऐसा करने से महिला का सुहाग संकट में आ सकता है, साथ ही उसके पति पर कर्ज भी बढ़ सकता है। पति-पत्‍नी के जीवन में आर्थिक समस्‍याएं समेत अन्‍य मुसीबतें आ सकती हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अंधेरे के फायदा उठाकर कैनिंग में तृणमूल समर्थक को मारी गयी गोली, 4 गिरफ्तार

कोलकाता : कैनिंग के ईटखोला ग्राम पंचायत इलाके में एक तृणमूल समर्थक को गोली मार दी गयी। इस मामले में जांच करने के बाद चार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग: अलविदा राकेश झुनझुनवाला, ब्रीच कैंडी अस्पताल में आखिरी सांस ली

जानिए चेहरे पर क्यों आते हैं मुंहासे, इन्हें जड़ से खत्म कर देंगे यह घरेलू उपाय

स्वाधीनता दिवस पर 288 के बजाय 188 मेट्रो सर्विसेज

स्वस्थ रहने के लिए जेल में व्यायाम करेंगे पार्थ

सपने में इंसान की मौत होने का क्या है रहस्य? जेवर-पैसे दिखने का मतलब भी समझें

आज पार्थ के विधानसभा क्षेत्र बेहला पश्चिम जाएंगी ममता

रविवार के दिन करें सूर्यदेव की पूजा, पढ़ें ये मंत्र, सफलता कदम चूमेगी

2 वर्षों बाद रेड रोड पर स्वाधीनता दिवस के कार्यक्रम में शामिल होंगे स्टूडेंट्स

सामाजिक सम्मान नष्ट हो रहा है लेकिन धैर्य रखें : फिरहाद

ऊपर