दिल्ली हिंसा : उपराज्यपाल ने हिंसा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया, लोगों से कहा डरने की जरूरत नहीं

delhis

नयी दिल्ली : दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने शुक्रवार को उत्तरपूर्वी दिल्ली में दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने स्थानीय लोगों से बातचीत भी की। एक अधिकारी ने बताया कि बैजल ने मौजपुर, जाफराबाद और गोकलपुरी का दौरा किया। उनके साथ वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी थे। सोमवार को हिंसा भड़कने के बाद दंगा प्रभावित इलाकों में उपराज्यपाल का यह पहला दौरा है। इसके पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा किया था।

एनएसए डोभाल ने किया था दौरा

इससे पहले एनएसए अजीत डोभाल बुधवार दोपहर बाद दंगाग्रस्त इलाके मौजपुर का दौरा किया था। यहां उन्होंने गलियों में जाकर लोगों से बातचीत की। इस दौरान उनके साथ दिल्ली पुलिस लॉ एंड ऑर्डर के विशेष आयुक्त एसएन श्रीवास्तव भी मौजूद थे। अजीत डोभाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि, ‘‘स्थिति नियंत्रण में है और लोग संतुष्ट हैं। हमें कानून लागू करने वाली एजेंसियों पर भरोसा है। पुलिस अपना काम कर रही है और सतर्क है।’’

कई इलाकों में धारा 144 लागू

उत्तरपूर्व दिल्ली में भड़की सांप्रदायिक हिंसा में अब तक 43 लोगों की मौत हुई है और 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं। इस हिंसा में जाफराबाद मौजपुर, चांदबाग, खुरेजी खास और भजनपुरा जैसे इलाके सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। उत्तरपूर्व जिले के प्रभावित इलाकों में सोमवार से करीब 7,000 अर्द्धसैनिक बल तैनात हैं। शांति कायम रखने के लिए दिल्ली पुलिस के सैकड़ों कर्मी ड्यूटी पर हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि स्थिति सुधरने पर धारा 144 के तहत लगाई गई पाबंदियों में 10 घंटे की ढील दी जाएगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

tmc

बौखला उठे हैं भाजपा प्रवक्ता, मर्यादा की सारी सीमाएं लांघ रहे हैं

तृणमूल को बांग्लादेशी पार्टी कहा, प्रवक्ता को बंगलादेशी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : जैसे - जैसे विधानसभा चुनाव करीब आ रहा है वैसे - वैसे भाजपा में बौखलाहट आगे पढ़ें »

मुख्यमंत्री के साथ हुए व्यवहार पर नरेंद्र मोदी ने एक शब्द नहीं कहा – तृणमूल

पीएम के रवैये पर तृणमूल ने जताया खेद सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ममता आगे पढ़ें »

ऊपर