बक्सर के बाद अब इस शहर में नदी में तैरती दिखीं दर्जनों लाशें, मचा हड़कंप

गाजीपुर: नदी में शवों के तैरते मिलने का एक और मामला सामने आए है। अब गाजीपुर में गंगा नदी में दर्जनों लाशें तैरती दिखाई दी हैं। इन शवों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की आशंका के चलते नदी के किनारे रहने वाले ग्रामीणों में हड़कंप मचा हुआ है। मामला सामने आते ही जिलाधिकारी ने जांच के लिए टीम गठित कर दी है। इससे पहले बिहार के बक्‍सर में ऐसा मामला सामने आया था। गाजीपुर जिले के कई घाटों पर यह शव मिले हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक जिले के गहमर थाना क्षेत्र के नरवा, सोझवा और बुलाकीदास बाबा घाटों पर दर्जनों शव मिले हैं। इसके अलावा करण्डा क्षेत्र के कई घाटों पर भी ऐसी ही स्थिति रही। ये शव मिलने के बाद से ही ग्रामीण बहुत डरे हुए हैं। उन्‍हें डर है कि यदि ये शव कोविड-19 मरीजों के हैं तो इससे नदी के पानी का उपयोग करने पर वे भी संक्रमित हो जाएंगे।
डीएम ने जांच के लिए बनाई टीम
गाजीपुर के डीएम एमपी सिंह ने बताया कि जानकारी मिलते ही हमारे अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। मामले की जांच चल रही है। हम यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि ये शव कहां से आए हैं। जांच के लिए टीम भी गठित कर दी गई हैं। गौरतलब है कि गाजीपुर का गहमर गांव बिहार के बक्सर जिले से सटा हुआ है। इससे पहले सोमवार को बक्सर जिले के चौसा क्षेत्र के महादेवा घाट पर शव मिले थे चूंकि गंगा नदी गहमर से होते हुए बिहार में प्रवेश करती है लिहाजा चौसा के जिला प्रशासन को संदेह है कि ये शव यूपी से बहकर यहां आए हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

हावड़ा में कम नहीं हो रहा राजीव के प्रति रोष

तृणमूल कर्मियों ने कहीं पुतला फूँका तो कहीं नारेबाजी की सन्मार्ग संवाददाता हावड़ा : मुकुल राय के तृणमूल में शामिल होने के बाद अब राजीव बनर्जी के आगे पढ़ें »

‘ट्रांसजेंडर होने के कारण नहीं हुआ मेरा कोविड टेस्ट’

मानवी ने की शिकायत, कहा, मानसिक तौर पर टूट गयी हूं सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : केवल ट्रांसजेंडर महिला होने के कारण मेरा कोविड टेस्ट नहीं हो आगे पढ़ें »

ऊपर