ननद ने खा लिए लड्डू तो सास से लड़ने लगी बहू, भाइयों को बुलवा कर …

sharp weapon

उत्तर प्रदेश :  उत्तर प्रदेश के देवरिया में अंबेडकर जयंती समारोह में मिले लड्डुओं को जब ननद ने खा लिया तो नाराज बहू ने हंगामा कर दिया उसने मायकेवालों को बुलवाकर ससुर को मौत के घाट उतरवा दिया। इस मामले में थाना महुवाडीह ने बहू सुमन के दो भाइयों भोला और राजकुमार को अरेस्ट कर लिया है। थाना अध्यक्ष विपिन मलिक ने बताया कि मृतक की पत्नी उर्मिला देवी की तहरीर पर गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज किया गया है।
बहू सुमन ने पूरी रात किया झगड़ा

दरअसल, 14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती थी। थाना महुवाडीह के ग्राम देवरिया नकछेद में गांव के बाहर अंबेडकर पार्क में बहुत ही धूम-धाम से अंबेडकर जयंती मनाई गई। समारोह में मिठाई वितरण हुआ जिसे लेकर रामेश्वर प्रसाद अपने घर पहुंचे। रामवेश्वर प्रसाद की बेटी को मिठाई खाते हुए बहू सुमन ने देख लिया। बहू सुमन ने इसी बात को लेकर तांडव मचाना शुरू कर दिया। उसने रातभर अपनी सास से झगड़ा किया। जब रामवेश्वर प्रसाद हैचरी फॉर्म पर सो रहे थे। झगड़े की जानकारी होने पर वह घर पहुंचे। उन्होंने झगड़े को शांत कराने की बहुत कोशिश की लेकिन बहू ने देख लेने की धमकी देते हुए तुरंत मायकेवालों को फोन कर दिया। जिसके बाद चार पहिया वाहन से सुमन के भाई पहुंच गए और फिर वो रामेश्वर प्रसाद के छोटे बेटे विश्वजीत को मारने-पीटने लगे।
इस दौरान जब रामवेश्वर प्रसाद ने बीच-बचाव करने की कोशश की तो बहू के भाइयों उन्हें इस कदर पीटा कि वह लहूलुहान होकर गिर पड़े। जिसके बाद रामेश्वर को आनन-फानन में परिजन पिपरादौला कदम सीएचसी पर ले गए। रामेश्वर प्रसाद की गम्भीर स्थिति को देखते हुए परिजन उन्हें जिला अस्पताल इमरजेंसी पर ले गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

भाइयों के साथ मायके चली गई बहू

उधर, बहू अपना सामान पैककर अपने भाइयों के साथ मायके चली गई। जब यह बात मृतक के बेटे सोनू (सुमन के पति, जो विदेश में नौकरी करता है) को पता चली तो उसने उसे तुरंत घर जाने को कहा जिसके बाद सुमन उसी रात दोबारा अपने भाइयों के साथ घर पहुंची तो गांव वाले आग-बबूला होकर हंगामा करने लगे। बहू को अंदर घर में नहीं जाने दिए। इस दौरान वाद विवाद का सिलसिला पूरी रात चलता रहा।

अगली सुबह बहू सुमन के माता-पिता पहुंचे। इसी दौरान पुलिस भी मृतक रामेश्वर के घर पहुंच गई और सभी को पकड़कर थाने पर ले आई। इस मामले में मृतक की पत्नी उर्मिला देवी की तहरीर पर पुलिस ने सुमन के दो भाइयों भोला और राजकुमार के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

मृतक रामेश्वर प्रसाद के तीन बेटे और एक बेटी है। बेटे सोनू और बेटी की शादी हो चुकी है। सोनू की शादी तीन साल पहले सदर कोतवाली के भगवतीपुर में हुई थी। सोनू विदेश नौकरी करता है घर पर दो भाई अभिषेक और विश्वजीत रहते हैं, शादीशुदा बेटी भी इस समय अपनी मां के घर पर ही है। आरोप है कि बहू सुमन परिवार में बंटवारा चाहती है और अलग रहना चाहती है। जिसे लेकर आए दिन घर में झगड़ा होता रहता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सप्तमी से राज्य में हो सकती है भारी बारिश

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : दुर्गा पूजा में बुरी खबर है क्योंकि बारिश दुर्गा पूजा के रंग में भंग डालने का काम कर सकती है। मौसम विभाग आगे पढ़ें »

ईडी दिल्ली कार्यालय पहुंचे कोलकाता के एसपी रैंक के अधिकारी, हुई पूछताछ

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोयला तस्करी मामले में कोलकाता के एसपी रैंक के एक आईपीएस अधिकारी से ईडी की टीम ने दिल्ली स्थित कार्यालय में पूछताछ आगे पढ़ें »

ऊपर