अमेठी में दलित ग्राम प्रधान पति की जलाकर हत्या

लखनऊः उत्तर प्रदेश में अपराधी बेखौफ हैं। यहां से हर दूसरे दिन दिल दहला देने वाली घटनाएं सामने आ रही है। पहले हाथरस कांड, फिर गोंडा कांड और अब अमेठी। दरअसल, यहां दलित ग्राम प्रधान पति की जलाकर हत्या कर दी गई है। यह मुंशीगंज कोतवाली क्षेत्र के बंदोईया गांव का मामला है। घर के पास बाउंड्रीवाल के भीतर गंभीर हालत में जली हुई अवस्था प्रधान पति अर्जुन मिला था। निजी अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।
क्या है मामला?
दरअसल, गुरुवार देर रात बंदोईया गांव के ही एक घर के पास बाउंड्रीवाल के भीतर किसी के कराहने की आवाज आ रही थी। घर के लोगों ने जब देखा तो उन्हें दिखा कि कोई व्यक्ति बाउंड्रीवाल के भीतर जल रहा है। ग्रामीणों ने इसकी सूचना तत्काल मुशीगंज पुलिस को दी और एम्बुलेंस बुलाकर उसे सीएचसी नौगिरवा अस्पताल पहुंचाया। ग्रामीणों और घर के लोगों ने जल रहे शख्स की पहचान बंदोईया ग्राम प्रधान के पति अर्जुन के रूप में की। उसे सीएचसी में प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल सुल्तानपुर ले जाया गया। वहां से भी उसे रेफर कर दिया गया। इसके बाद उसका एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था, जहां उसकी मौत हो गई है।
नहीं मिली है तहरीर
प्रधानपति अर्जुन का शव आज सुबह गांव पहुंचा। इस दौरान उसकी पत्नी और ग्राम प्रधान छोटका, तीन बेटे सुरेंद्र, गोविंद, रविन्द्र और दो बेटियां पुनीता व बैजंती दहाड़ मारकर रोने लगे। परिजनों ने बताया कि गुरुवार शाम किसी काम से अर्जुन मुसवापुर चौराहा गए थे, जब वे देर रात तक नहीं लौटे तो इसकी सूचना मुंशीगंज पुलिस को दी गई थी। घटना की सूचना पाकर गुरुवार रात ही पुलिस टीम और फोरेंसिक टीम गांव पहुंची। इस मामले में थानाध्यक्ष मुंशीगंज मिथिलेश सिंह ने बताया कि अभी तहरीर नहीं मिली है। प्रथम दृष्टया उनकी जलकर मौत हुई है।
शेयर करें

मुख्य समाचार

भारत में न्यूनतम मजदूरी पड़ोसी देशों से भी कम

नई दिल्ली : इंटरनेशनल लेबर आर्गनाइजेशन (आईएलओ) की नई रिपोर्ट में दावा किया गया है कि भारत के मजदूरों पर कोरोना माहामारी और लॉकडाउन की आगे पढ़ें »

सुशील मोदी निर्विरोध जीते राज्यसभा का उपचुनाव

पटनाः बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) के प्रत्याशी सुशील कुमार मोदी राज्यसभा का उपचुनाव निर्विरोध जीत गए हैं। राज्यसभा की एक सीट आगे पढ़ें »

ऊपर