देश की पहली नेत्रहीन महिला आईएएस अधिकारी ने संभाला नया पद

Pranjal Patil

तिरुवनंतपुरम : भारत की पहली दृष्टि बाधित महिला आईएएस अधिकारी प्रांजल पाटिल ने तिरुवनंतपुरम में सहायक कलेक्टर के रुप में पदभार संभाला है। महाराष्ट्र के उल्हासनगर ‌की निवासी प्रांजल ने साल 2017 में यूपीएससी परीक्षा में 124वां स्‍थान हासिल कर देश की पहली नेत्रहीन आईएएस अधिकारी बन गयी हैं। दिव्यांग होने के बावजूद पाटिल उम्मीद नहीं हारीं और अपने हौसले को बुलंद रखते हुए आगे बढ़ती रहीं। प्रांजल ने ट्रेनिंग के बाद केरल के एरनाकुलम से उप जिलाअधिकारी का पद संभाल कर अपने करियर की शुरुआत की। उन्होंने अपनी कामयाबी का श्रेय अपने माता-पिता को दिया और उन सभी लोगों के लिए मिसाल की परिभाषा बन गयी है जो परिस्थितियों के कारण हार मान लेते हैं।

पहली ही प्रयास में 773वी रैंक प्राप्त की

प्रांजल ने पहली बार में ही यूपीएससी की परीक्षा में 773 वीं रैंक हासिल की थी। उस वक्त उन्हें भारतीय रेलवे लेखा सेवा क्षेत्र में काम मिला था पर पूरी तरह से नेत्रहीन होने के कारण उन्हें नौकरी नहीं दी गयी थी। पर उन्होनें हार न मानते हुए दोबारा परीक्षा दी और बेहतर स्‍थान प्राप्त की। मालूम हो कि प्रांजल ने मुबंई के दादर स्थित श्रीमति कमला मेहता स्कूल से अपनी पढ़ाई पूरी की जो खास बच्‍चों के लिए था। पाटिल ने 10वीं तक पढ़ने के बाद चंदाबाई कॉलेज से आर्ट्स की पढ़ाई की जिसमें उसे 85 प्रतिशत अंक प्राप्त मिले। इन सब के बाद पाटिल ने मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज में दाखिला लिया और बीए किया। जेएनयू से एमए करने के बाद एक खास सॉफ्टवेयर जॉब ऐक्सेस विद स्पीच की सहायता ली जिसे खासतौर पर दृष्टि बाधित लोगों के लिए बनाया जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

धनशोधन मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के छोटे भाई गिरफ्तार

लाहौर : सात अरब रुपये के धनशोधन मामले में लाहौर उच्च न्यायालय द्वारा जमानत याचिका खारिज किए जाने पर पाकिस्तान के नेता प्रतिपक्ष एवं पीएमएल-एन आगे पढ़ें »

trump

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने अमेरिका से ज्यादा भारत में जमा कराए टैक्स

वाशिंगटन : अमेरिका में तीन नवंबर को होने वाले चुनाव से पहले 'द न्यूयॉर्क टाइम्स' ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की टैक्स चोरी पर खुलासा आगे पढ़ें »

ऊपर