सीएम काफिला मामला: रांची के डीसी-एसएसपी को कारण बताओ नोटिस

 

रांची : झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन का काफिला रोकने के मामले में रांची के उपायुक्त और एसएसपी को कारण बताओ नोटिस दिया गया है। इस मामले की जांच उच्चस्तरीय कमेटी जांच करेगी। इस पूरे घटनाक्रम की जांच के लिए सरकार ने दो सदस्यीय उच्चस्तरीय समिति का गठन किया है,जिसमें भारतीय प्रशासनिक सेवा व भारतीय पुलिस सेवा के एक-एक वरीय अधिकारी रहेंगे। उच्चस्तरीय समिति को पूरे मामले में जांच कर शीघ्र विस्तृत रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया है।

मालूम हो कि सोमवार को झारखंड मंत्रालय से लौट रहे मुख्यमंत्री का काफिला रोकने की उपद्रवियों ने कोशिश की थी,जिसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए वैकल्पिक मार्ग से मुख्यमंत्री के काफिले को निकाला था। रांची के किशोरगंज इलाके में सीएम सोरेन का काफिला उपद्नवियों द्वारा रोके जाने के मामले में राज्य सरकार ने रांची के डीसी छवि रंजन व एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा को शो-कॉज किया है।

यह भी मालूम हो कि रविवार को ओरमांझी में एक युवती का सिर कटी लाश मिली थी। लड़की के शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था। इसी को लेकर रांची के किशोरगंज चौक पर कुछ हिंदू संगठन प्रदर्शन कर रहे थे। इसी बीच ही सीएम का काफिला प्रोजेक्ट भवन से कांके रोड आवास की ओर जा रहा था। तभी भीड़ ने उस पर हमला कर दिया। वहीं डीजीपी एमवी राव ने काफी सख्‍त तेवर दिखाते हुए कहा कि दोबारा यदि किसी ने ऐसा कि तो मौके पर ही हाथ पैर तोड़ दिया जाएगा। यह हमला सुनियोजित साजिश थी। ऐसे लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा। कड़ा सबक सिखाया जाएगा। झारखंड में गुंदागर्दी नहीं चलने दी जाएगी। सीएम के काफिले पर हमले की घटना में शामिल लोगों को तलाश कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। किसी को भी बख्‍शा नहीं जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भगवानपुर में तृणमूल व भाजपा कर्मियों के बीच जबर्दस्त बमबाजी

शुभेन्दु अधिकारी के सभा में शामिल होने पहुंचे थे कार्यकर्ता खड़गपुर/कांथी: पूर्व मिदनापुर जिला अंतर्गत भगवानपुर में भाजपा व तृणमूल कर्मियों के बीच भारी बमबाजी होने आगे पढ़ें »

तृणमूल के और भी विधायक छोड़ेंगे पार्टी, क्या ममता उनकी सीटों से भी चुनाव लड़ेंगी : शुभेन्दु

नंदीग्राम : भाजपा में हाल ही में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी ने मंगलवार को दावा किया कि आने वाले दिनों में और भी विधायक तृणमूल आगे पढ़ें »

ऊपर