मुख्यमंत्री योगी की चेतावनी, कोविड प्रोटोकॉल के नाम पर उत्पीड़न हुआ तो खैर नहीं 

yogi

 

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस एवं प्रशासन को कोविड-19 प्रोटोकॉल के नाम पर किसी भी तरह के उत्पीड़न के खिलाफ कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि ऐसा होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने गुरुवार को बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोविड-19 प्रोटोकॉल के नाम पर पुलिस प्रशासन द्वारा उत्पीड़न कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वह कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए लोगों को जागरुक तथा प्रेरित करें।
शादी के लिए पुलिस या प्रशासन की इजाजत जरूरत नहीं
प्रवक्ता के अनुसार, मुख्यमंत्री ने यह भी साफ किया है कि शादी समारोहों के आयोजन के लिए पुलिस या प्रशासन से किसी भी तरह की इजाजत लेने की जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने शादियों में डीजे तथा बैंड के इस्तेमाल पर रोक लगाने और दुर्व्यवहार करने वाले अधिकारियों और पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी है।
बंद जगहों पर 100 से ज्यादा लोगों की शिरकत पर पाबंदी
मालूम हो कि उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को जारी दिशानिर्देशों में हॉल या ऐसे ही बंद स्‍थानों में शादी तथा अन्य सामाजिक समारोहों में 100 से ज्यादा लोगों की शिरकत पर पाबंदी लगा दी थी। इसके अलावा खुले में ऐसे कार्यक्रमों के आयोजन की स्थिति में उस जगह के 40% हिस्से तक का ही इस्तेमाल किए जाने के निर्देश दिए गए थे। इन कार्यक्रमों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने की भी हिदायत दी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

beaten

ब्रेकिंग : तृणमूल कांग्रेस के बूथ सभापति की पीट-पीटकर हत्या

बर्दवान : मंगलकोट विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 197 में भाजपा समर्थित उपद्रवियों ने तृणमूल कांग्रेस के बूथ सभापति की पीट-पीटकर हत्या कर दी।घटना की आगे पढ़ें »

ममता बनर्जी पर तंज – बंगाल के लोग अब चप्पल नहीं जूते पहनना चाहते हैं

कोलकाता : बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए कहा कि राज्य के लोग हवाई चप्पल नहीं आगे पढ़ें »

ऊपर