वास्‍तु दोष का बड़ा कारण बन सकता है चकला-बेलन, जानिए इससे जुड़े बेहद जरूरी नियम

कोलकाता : वास्‍तु शास्‍त्र में किचन की दिशा, उसमें रखी चीजों और उनके उपयोग के तरीके को बहुत महत्‍व दिया गया है। तकरीबन हर घर में रोटी बनाने के लिए रोजाना इस्‍तेमाल होने वाला चकला-बेलन इन महत्‍वपूर्ण चीजों में से एक है। वास्‍तु शास्‍त्र में चकला-बेलन खरीदने से लेकर उसे इस्‍तेमाल करने और उसके बाद उसे रखने के तरीके तक के बारे में कई जरूरी बातें बताई गईं हैं। ऐसा न करने से परिवार को आर्थिक हानि जैसे कई नुकसान उठाने पड़ सकते हैं।
चकला-बेलन से जुडे़ जरूरी नियम
– चकला-बेलन का उपयोग रोटी बनाने में होता है, जिससे मिली ऊर्जा से हमारा जीवन चलता है। लिहाजा इसे खरीदने का सही दिन चुनना जरूरी है। ज्‍योतिष और वास्‍तु के मुताबिक हो सके तो चकला-बेलन बुधवार के दिन खरीदें। ऐसा न हो पाए तो किसी अन्‍य दिन खरीद लें लेकिन मंगलवार-शनिवार को खरीदने की गलती न करें।
– चकला-बेलन को हमेशा साफ रखें। कई लोग रोटी बनाने के बाद चकला-बेलन को रोजाना साफ नहीं करते हैं। ऐसा करना पैसे और सेहत दोनों के लिए नकारात्‍मक होता है इससे पैसों की तंगी आती है।
– चकला-बेलन को इस्‍तेमाल करने के बाद धोकर साफ जगह पर रखें। लेकिन इसे ना तो उल्‍टा रखें और ना ही अनाज, आटे के डिब्‍बे पर रखें। ऐसा करने से घर में गरीबी आती है।
– कभी भी टूटा हुआ चकला-बेलन इस्‍तेमाल न करें।
– रोटी बेलते समय आवाज करने वाला चकला-बेलन भी इस्‍तेमाल न करें। इससे घर में झगड़े बढ़ते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंगः सिक्किम में बड़ी सड़क दुर्घटना, मौके पर ही 5 लोगों की मौत

- महाराष्ट्र के 5 पर्यटकों की मौत सिलीगुड़ी: सिक्किम के चुंगथांग थाना क्षेत्र के खेडुंग के पास एस के 03 जे 0551 नंबर की वाहन दुर्घटनाग्रस्त आगे पढ़ें »

ऊपर