दावोस से लौटने के बाद होगा मंत्रिमंडल विस्तार : येदियुरप्पा

yedi

बेंगलुरु : कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने रविवार को कहा कि उनकी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ मंत्रिमंडल विस्तार पर विस्तार से चर्चा हुई है। साथ ही कहा कि यह कवायद उनके दावोस से लौटने के बाद की जाएगी। मुख्यमंत्री ने विश्व आर्थिक मंच की बैठक में हिस्सा लेने के लिये दावोस रवाना होने से पहले संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा कि उन्हें उम्मीद है कि उनकी यात्रा से राज्य में बड़े पैमाने पर निवेश लाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि ‘मंत्रिमंडल विस्तार पर मेरी गृह मंत्री के साथ विस्तार से चर्चा हुई थी। अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। दावोस से मेरे लौटने के एक या दो दिन बाद मैं मंत्रिमंडल का विस्तार करूंगा। इसमें कोई बाधा नहीं है।’

अमित शाह से मिलना मेरे लिए स्वाभाविक है

येदियुरप्पा ने मीडिया में आई उन खबरों को खारिज कर दिया कि मंत्रिमंडल विस्तार पर कोई स्पष्टता नहीं है। उन्होंने कहा कि ‘यह सही नहीं है। कोई मुद्दा नहीं है।’ यह पूछे जाने पर कि दावोस से लौटने के बाद क्या वह अमित शाह से मिलने दिल्ली जाएंगे तो येदियुरप्पा ने कहा कि ‘अमित शाह से मिलना मेरे लिए स्वाभाविक है।’

24 जनवरी को शहर में लौट आएंगे ये‌दियुरप्पा

मुख्यमंत्री के यात्रा कार्यक्रम के अनुसार, वह 24 जनवरी को शहर में लौट आएंगे। विश्व आर्थिक मंच की 50वीं वार्षिक बैठक में येदियुरप्पा, केंद्रीय मंत्री पीयूष और मनसुख मंडाविया, पंजाब और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री क्रमश: अमरिंदर सिंह और कमलनाथ के अलावा 100 से अधिक भारतीय सीईओ के बैठक में हिस्सा लेने की उम्मीद है। येदियुरप्पा नीत प्रतिनिधिमंडल में राज्य के उद्योग मंत्री जगदीश शेट्टार, मुख्य सचिव टी एम विजय भास्कर और राज्य सरकार के शीर्ष अधिकारी शामिल हैं।

वर्तमान में मुख्यमंत्री समेत कर्नाटक में 18 मंत्री हैं

मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव एसआर विश्वनाथ ने भी कहा कि येदियुरप्पा दावोस से लौटने के बाद दिल्ली जाएंगे और उसके बाद मत्रिमंडल का विस्तार करेंगे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री से भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से बातचीत करके चीजों को अंतिम रूप देने को कहा गया है। चूंकि मुख्यमंत्री ने पहले ही साफ कर दिया है कि विधानसभा की सदस्यता से अयोग्य करार दिये गए जद (एस)-कांग्रेस के उन 11 विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा, जो भाजपा के टिकट पर दोबारा विधानसभा के लिए चुने गए हैं। ऐसे में मंत्री पद के लिए और शेष बची सीटों के लिए पार्टी के अन्य विधायक जीतोड़ प्रयास कर रहे हैं। फिलहाल मुख्यमंत्री समेत कर्नाटक में 18 मंत्री हैं। राज्य में संविधान के अनुसार, 34 मंत्री हो सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राजस्थान रॉयल्स के सामने केकेआर की कड़ी परीक्षा

दुबई : कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) को अगर आईपीएल में अपना अभियान पटरी पर बनाये रखना है तो उसे बेहतरीन फार्म में चल रहे राजस्थान रॉयल्स आगे पढ़ें »

सनराइजर्स ने रोका दिल्ली का विजय रथ, राशिद-भुवनेश्वर का चला जादू

अबुधाबी : आईपीएल के 13वें सीजन का 11वां मुकाबला दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच अबुधाबी में खेला गया। इस मुकाबले में दिल्ली के आगे पढ़ें »

ऊपर