ऐसे पेड़-पौधे लगाने से खुलते हैं तरक्की के द्वार, ग्रह दोष भी होंगे दूर

कोलकाता :  हिन्दू धर्म में देवी, देवता, नदी, पर्वत, पशु, पेड़-पौधे सबकी पूजा की जाती है। इसमें प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के साथ ही प्रकृति से प्रेम का भी भाव छिपा है।  आज हम आपको कुछ ऐसे पेड़-पौधों के बारे में बता रहे हैं, जिनको लगाने से घर की सुंदरता और वातावरण अच्छा तो होगा ही, आपकी कुंडली में ग्रहों से जुड़े दोष  दूर होंगे और आपके लिए तरक्की के द्वार भी खोलेंगे। कई पौधे को घर के वास्तु दोषों को भी दूर करने में सहायक होते हैं। आइए जानते हैं इन पेड़-पौधों के बारे में…

1. तुलसी का पौधा
तुलसी का पौधा जितना औषधीय गुणों वाला होता है, उतना ही उसकी पौराणिक मान्यताएं भी हैं। इस वजह से हर घर के आंगन में तुलसी का पौधा होता है। यदि आपके घर में तुलसी का पौधा नहीं है, तो आप इसे गमले में लगा लें और पूरब दिशा में रख दें। प्रात:काल में इसकी पूजा करें और हर शाम को घी का दीपक जलाएं। ऐसा करने से घर में खुशहाली आएगी, सेहत अच्छी रहेगी।

2. दौना का पौधा
दौना का पौधा नैऋत्य दिशा यानी घर के दक्षिण पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए।  हर रोज स्नान के बाद उसे जल दें। ऐसा करने से कर्ज की स्थिति से छुटकारा मिलता है। यदि आप किसी कर्ज से परेशान हैं, तो दौना का पौधा लगाकर उसकी सेवा करें।
3. पीपल का पौधा
हिन्दू धर्म में पीपल के पौधे को बड़ी श्रद्धा से देखा जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इसमें सभी देवी-देवताओं का वास होता है। पीपल का पौधा गमले में लगा सकते हैं। पीपल के पौधे की पूजा करने और जल अर्पित करने से शनि देव और भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं। शनि दोष भी दूर करने में मदद मिलती है।

4. लाजवंती का पौधा
लाजवंता पौधे का संबंध राहु ग्रह से है। इस पौधे को घर के पूर्व उत्तर कोण वाली दिशा में लगाना चाहिए। कुंडली में राहु दोष से राहत मिलती है।

5. शमी का पौधा
शमी का पौधा धार्मिक दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है।  इसे घर से बाहर दक्षिण और पूर्व उत्तर कोण वाली दिशा में लगा सकते हैं।  शमी पेड़ की पूजा करने से शनि दोष दूर होता है। शनि देव प्रसन्न होते है। इसके पत्तों को भगवान शिव की पूजा उपयोग करते हैं, जिससे महादेव की भी कृपा मिजती है। जिस घर के द्वार पर शमी का पौधा होता है, वहां सुख, धन, धान्य की कमी नहीं रहती है। शमी का पौधा विजयादशमी को लगाना बहुत शुभ होता है।
6. केले का पौधा
केले के पौधे की पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं और कुंडली का गुरु दोष भी दूर होता है। भगवान विष्णु का प्रिय फल केला है। इन पौधों के अलावा वट वृक्ष, आंवला वृक्ष की भी पूजा होती है। वट वृक्ष की पूजा से अखंड सौभाग्य प्राप्त होता है और आंवला वृक्ष की पूजा भगवान विष्णु को ध्यान में रखकर किया जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बंगाल: छुरा मारकर अधेड़ की हत्या से सनसनी, इलाके में तनाव

बर्नपुर : हीरापुर थाना अंतर्गत रहमत नगर इलाके के चाबी मोड़ में मंगलवार की सुबह एक युवक ने छुरा से हमला कर अधेड़ की हत्या आगे पढ़ें »

ऊपर