गुरुवार के दिन इन उपायों को अपनाने से तरक्की मिलने की है मान्यता, आप भी जानिये

कोलकाता : हिंदू धर्म में गुरुवार के दिन को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। कहते हैं कि ये दिन देव गुरु बृहस्पति और भगवान विष्णु को समर्पित है। धार्मिक मान्यताओं अनुसार इस दिन भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करने से लोगों के सभी कष्ट दूर हो जाते हैं। ज्योतिषाचार्यों का मानना है कि धन-दौलत, व्यापार, विवाह, शिक्षा और नौकरी हर क्षेत्र में शुभ फल पाने के लिए भक्तों को इस दिन पूजा-पाठ करना चाहिए। साथ ही, गुरुवार के कुछ उपायों और टोटकों की मदद से घर में सुख-समृद्धि आने की भी मान्यता है। जानें विस्तार से –
क्यों जरूरी है इस दिन पूजा-पाठ
बताया जाता है कि बृहस्पतिदेव बुद्धि दाता हैं। ऐसे में गुरु दोष से बचने के लिए पूरे मन और श्रद्धा से लोगों को पूजा करनी चाहिए। माना ऐसा भी जाता है कि इसी ग्रह के योग से लोगों को धन की प्राप्ति हो पाती है। कहा जाता है कि अगर आपके साथ गुरु ग्रह का उचित योग है तो आपको कभी धन की तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा। ऐसे में जो लोग आर्थिक संकटों से जूझ रहे हैं, उन्हें गुरुवार के दिन खास उपाय करना चाहिए।
केले का पेड़
जानकारों का मानना है कि गुरुवार के दिन केले के पेड़ पर जल अर्पित करने से लाभ मिलने की मान्यता है। साथ ही, कहा जाता है कि शुद्ध घी का दीया जलाकर गुरु के 108 नामों का उच्चारण करने से शीघ्र विवाह के योग बनते हैं।
केसर का इस्तेमाल
विद्वानों के अनुसार तमाम मेहनत के बावजूद अगर आपकी किस्मत में धन-संपत्ति के योग नहीं बन पा रहे हैं तो इसका मतलब है कि आपकी कुंडली में गुरु दोष लगा हुआ। ऐसे लोगों को मंदिर में जाकर हर गुरुवार को श्रीहरि नारायण को केसर और चने की दाल का दान करना चाहिए। वहीं, केसर का तिलक लगाना भी असरदार साबित होगा।
किन्नरों को करें दान
ऐसी मान्यता है कि गुरुवार के दिन अगर आपको कहीं किन्नर दिखाई दें तो उन्हें कुछ दान करने की कोशिश करें । बताया जाता है कि इन्हें किसी भी प्रकार की दान-दक्षिणा देने से लोगों की जिंदगी से धन संबंधी परेशानियां दूर हो सकती हैं

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अब जावेद अख्तर लिखेंगे खेला होबे पर गीत

दीदी ने कहा, इस स्लोगन को दीजिए गीत का रूप ममता से मिलने पहुंचे जावेद अख्तर और शबाना आजमी सन्मार्ग संवाददाता नई दिल्ली : खेला होबे स्लोगन पश्चिम आगे पढ़ें »

ऊपर