ब्लैक फंगस के चौंकाने वाले मामले आ रहे है सामने, सिर्फ दो दिन में ही गई रोशनी और…

बिहार : बिहार के आरा जिले के एक गांव में 40 साल की महिला को 20 दिन पहले बुखार आया और वह गांव के मेडिकल स्टोर से दवा लेकर ठीक हो गई। न कोरोना की जांच हुई और न ही कोई परेशानी हुई, जिससे उसे हॉस्पिटल ना जाना पड़े। लेकिन दो दिन बाद महिला के आधे चेहरे पर दर्द शुरू हुआ। फिर दर्द वाली लेफ्ट आंख रोशनी जाने के साथ बाहर आने लगी। इस मामले से डॉक्टर भी चौंक गए हैं। शुक्रवार को महिला का CT स्कैन कराया तो ब्लैक फंगस डिटेक्ट हुआ। इसके बाद महिला को पटना AIIMS रेफर कर दिया गया।
डॉक्टर भी ऐसे मामलों से हैरान
आरा के कौशल्या समय हॉस्पिटल में महिला का इलाज करने वाले न्यूरो फिजिशियन डॉ. अखिलेश सिंह का कहना है कि वह इस केस से खुद हैरान हैं। महिला की कोई ऐसी हिस्ट्री नहीं है, जिससे ब्लैक फंगस को लेकर आशंका होती। पीड़ित संगीता देवी के मुताबिक उन्हें कोई बीमारी भी नहीं थी।
डॉ. अखिलेश के मुताबिक महिला ने बताया कि दो दिनों के अंदर ही उसकी आंख की रोशनी चली गई। पहले रोशनी गई, फिर आंख बाहर आ गई। डॉक्टर का कहना है कि महिला की हिस्ट्री और इस लक्षण से थोड़ा फंगस का संदेह हुआ तो CT स्कैन की सलाह दी गई। महिला ने पटना में CT स्कैन कराया तब फंगस का पता चला।
डॉ. अखिलेश सिंह का कहना है कि अगर कोरोना संक्रमित हैं या फिर कोरोना से ठीक हुए हैं तो काफी सावधानी बरतनी होगी। डॉक्टर्स के संपर्क में रहना होगा और बचाव के उपाय करते रहने होंगे, जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी नहीं आए। अगर कोई शुगर और ब्लड प्रेशर के साथ अन्य गंभीर बीमारियों से परेशान है तो वह विशेष ध्यान दे। खान-पान और एक्सरसाइज को लेकर सावधानी बरतनी होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

9 महीने बाद खुल सकता है टाला ब्रिज

ब्रिज का आधा निर्माण कार्य हुआ पूरा विधायक ने लिया निर्माण कार्य का जायजा कोलकाता : अब मात्र 9 महीने बाद निर्माणाधीन 4 लेन वाला टाला ब्रिज आगे पढ़ें »

महिलाएं हमेशा सेक्स के बारे में क्यों सोचती हैं…

कोलकाता : 'पुरुष सोचते हैं, जबकि महिलाएं चाहती हैं।' वे दिन गए, जब 'सेक्स की डिमांड' को विशेष रूप से एक पुरुष की विशेषता माना आगे पढ़ें »

ऊपर