अनुच्छेद 370 पर भाजपा देशभर में चलाएगी ‌अभियान, 370 जगहों पर होगी सभाएं

amit,raj,j p

लखनऊ : केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने के साथ ही प्रदेश से विशेष राज्य का दर्जा भी समाप्त हो गया है। साथ ही सरकार ने जम्‍मू-कश्मीर से लद्दाख को अलग कर दोनों प्रदेशों को केंद्र शासित राज्य बना दिया है। केंद्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले पर भारतीय जनता पार्टी ने देशभर में जन जागरण और जनसंपर्क अभियान चलाने का निर्णय लिया है। अभियान के दौरान भाजपा देशवासियों को बताएगी कि सरकार को जम्मू-कश्मीर से आखिर क्यों अनुच्छेद 370 हटाना पड़ा। इसके लिए पार्टी की ओर से फिल्म, खेल, शिक्षा जगत से लगभग 2,000 प्रमुख हस्तियों से मिलकर इस अभियान का हिस्सा बनने के लिए कहा गया है। बताया जा रहा है कि भाजपा द्वारा चलाए जाने वाले जनजागरण और जनसंपर्क अभियान में गृहमंत्री व पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत वरिष्ठ मंत्री शामिल रहेंगे। मालूम हो कि केंद्र सरकार द्वारा पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाया गया था।

370 जगहों पर चलाया जाएगा जनसंपर्क अभियान

इस अभियान को लेकर बुधवार को भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की गई। बैठक के दौरान पार्टी की ओर से अभियान को चलाने के लिए दो समितियों का गठन किया गया है। साथ ही बैठक में पार्टी की ओर से जनसंपर्क अभियान को 1 सितंबर से 30 सितंबर तक चलाया जाएगा, जो पूरे देश में 370 जगहों पर आयोजित किया जाएगा। बताया जा रहा है कि जनसंपर्क अभियान की अगुवाई भाजपा नेता धर्मेंद्र प्रधान करेंगे और जन जागरण अभियान की जिम्मेदारी गजेंद्र सिंह शेखावत को दिया गया है।

बता दें कि भाजपा की ओर से इससे पहले सदस्यता अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें पार्टी की ओर से इस सदस्यता अभियान में 3.78 करोड़ नए लोगों को भाजपा में शामिल होने का दावा किया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

police

दिल्ली हिंसा : यूपी पुलिस की तर्ज पर अब दिल्ली पुलिस भी दंगाइयों से वसुलेगी जुर्माना

दिल्ली : उत्तर प्रदेश पुलिस की तर्ज पर अब दिल्ली पुलिस ने भी दंगाइयों पर कार्रवाई करने का फैसला किया है। दरअसल, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में आगे पढ़ें »

मधुमेह के लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार

हमारी बिगड़ती जीवनशैली के कारण हमारा शरीर कई बीमारियों का घर बन गया है। इन्हीं बीमारियों में से एक है डाइबिटीज़ यानी मधुमेह। डाइबिटीज़ भले आगे पढ़ें »

ऊपर