बड़ी खबर : नक्सलबाड़ी में एसएसबी ने 55 बैलों को किया जब्त

जब्त मवेशियों की मूल्य 15 लाख रुपये से अधिक

अंधरे का फायदा उठाकर तस्कर फरार

खोरीबाड़ी : भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी की 41वीं वाहिनी के मदनजोत कंपनी के जवानों ने नेपाल से आ रहे तस्करी के 55 बैलों को जब्त किया है । लेकिन इस संबंध में किसी की तस्कर गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। इस संबंध एसएसबी की अधिकारी ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि कुछ मवेशी तस्कर काफी संख्या में मवेशियों के साथ अवैध रूप से नेपाल से भारत में बॉर्डर क्रॉस करने के फिराक में हैं। इसी सूचना पाकर मदनजोत सी कंपनी के इंस्पेक्टर प्रदीप कुमार बर्मन के नेतृत्व में एसएसबी  41वीं वाहिनी के मदनजोत, मियाबस्ती व कुटियाजोत के 14 जवानों द्वारा एक विशेष संयुक्त नाका पार्टी बना कर भारत-नेपाल सीमा पर स्थित पिलर संख्या 88/7 पर घात लगाकर बैठे हुए थे। ताकि तस्करों को मवेशियों के साथ धर-दबोचा जा सके । देर शाम नाका पार्टी ने देखा कि कुछ पशु तस्कर मवेशियों के साथ नेपाल से भारत में प्रवेश कर रहे हैं । उसी दौरान एसएसबी जवानों ने उन्हें रुकने के लिए कहा, इस दौरान तरात का अंधेरे का फायदा उठाकर मवेशी तस्कर मवेशियों को छोड़कर नेपाल की ओर भाग गए । इसके बाद बाद एसएसबी जवानों 55 बैलों को जब्त कर लिया। इसके बाद एसएसबी ने मंगलवार की देर रात जब्त मवेशियों को नक्सलबाड़ी थाना के हवाले कर दिया गया। जिसकी अनुमानित मूल्य करीब 15 लाख रुपये से अधिक बतायी गयी है। वहीं इस संबंध में नक्सलबाड़ी थानाध्यक्ष इफ्तिकार उल हसन ने बताया कि एसएसबी द्वारा मवेशियों को मंगलवार की रात को नक्सलबाड़ी थाना में सौंपा गया था। पुलिस की कागजी कार्यवाही करने के बाद मवेशियों को गौशाला भेज दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

कोयला तस्करी : 8 आईपीएस अफसरों को ईडी का समन

कोलकाता : ईडी ने पश्चिम बंगाल के 8 आईपीएस अफसरों को समन जारी किया है। सभी को ईडी ने पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया है। आगे पढ़ें »

ऊपर