पी लें सिर्फ 1 गिलास इलायची पानी…

कोलकाता : आज हम आपके लिए लेकर आए हैं इलायची पानी के फायदे, जी हां, इलायची का पानी सेहत के लिए बेहद लाभकारी होता है। आमतौर पर इलायची का उपयोग खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। लेकिन आपक जानकर हैरान हो जाएंगे कि इलायची के सेवन से आप कई बीमारियों से दूर रह सकते हैं। इस खबर में हम आपके लिए इलायची का पानी पीने के फायदों के बारे में बता रहे हैं। आयुर्वेद में इलायची का अपना महत्व है। देश के जाने माने आयुर्वेद डॉक्टर अबरार मुल्तानी कहते हैं कि रोजाना इलायची का पानी पीने से सेहत को कई तरह से फायदे पहुंचते हैं। यह पाचन में सुधार करता है और गैस की समस्या से छुटकारा दिलाता है। आइये जानते हैं कि कैसे तैयार करें इलायची का पानी और किस तरह से ये शरीर को फायदा पहुंचाता है।
इस तरह तैयार करें इलायची पानी
1 लीटर पानी में 5 इलायची छीलकर रातभर के लिए भिगो दें।
सुबह उठकर सबसे पहले इस पानी को गर्म करके पी लें।
एक बार की जगह आप इस पानी को दिन में 2 से 3 बार पी सकते हैं।
इलायची का पानी पीने के फायदे
1. वजन करे कंट्रोल : इलायची वजन कम करने में भी मददगार है। यह विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों और एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर होती है, जो शरीर में जमे एक्सट्रा फैट को कम करने में मदद करते हैं। इससे बढ़ते वजन को कंट्रोल में रखने में मदद मिलती है।
2. ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करता है : इलायची का पानी पीने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को इसका सेवन जरूर करना चाहिए।
3. कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करता है : इलायची में फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है। लिहाजा यह कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मददगार है। इसके अलावा इलायची का पानी शरीर में खून के थक्के बनने का खतरा कम होता है और हार्ट की बीमारियों से बचाता है
4. पाचन करे दुरुस्त : अगर आप रोज खाली पेट इलायची का पानी पीते हैं तो पाचन तंत्र मजबूत होता है। ऐसे में आपको पेट संबंधी कई समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

हावड़ा में तृणमूल में आने के लिए भाजपा नेताओं की है लंबी लाइन : अरूप राय

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में तृणमूल कांग्रेस की तीसरी बार सरकार बनने के बाद से भाजपा के कई बड़े नेताओं के सुर बदलने लगे। भाजपा आगे पढ़ें »

ऊपर