पीएम की शपथ से पहले बिहार के सीएम ने दिए थे आरएसएस नेताओं की जानकारी निकालने के आदेश

CM Nitish Kumar

पटनाः बिहार पुलिस की स्पेशल ब्रांच का एक आदेश इन दिनों सुर्खियों में है। बताया जा रहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ से दो दिन पहले यानि 26 मई को स्पेशल ब्रांच के एसपी को एक आदेश जारी हुआ था। जिसमें राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (आरएसएस) पदाधिकारियों और 17 सहायक संगठनों की पूरी जानकारी निकालने के लिए कहा गया था।

जेडीयू ने कहा रूटीन मामला

जनता दल युनाइटेड(जेडीयू) ने आरएसएस और बाकी संगठनों की जानकारी निकाले जाने के आदेश को रूटीन मामला बताया है। जेडीयू के नेशनल सेक्रेटरी जनरल केसी त्यागी ने कहा- ‘यह रूटीन का मामला है जो कि प्रत्येक राज्य या केंद्र सरकार की खुफिया इकाई समय-समय पर करती रहती हैं। इसे किसी संगठन की छवि को खराब करने की कोशिश के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए’। दूसरी तरफ भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि ये एक गंभीर मुद्दा है क्योंकि आरएसएस एक राष्ट्रीय संगठन है।

हफ्ते भर में जानकारी देने को कहा था

बताया जा रहा कि वरिष्ठ अधिकारियों को ये आदेश ‌दिया गया था कि वे ‌एक हफ्ते में सारी जानकारी निकालें। उस पत्र की कॉपी स्पेशल ब्रांच के एडीजी, आईजी, और डीआईजी को भेजी गई ‌थी। वहीं वर्तमान में स्पेशल ब्रांच के एसपी (जी) कार्तिकेय शर्मा ने बताया कि उन्हें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है कि पहले यहां से कोई पत्र जारी हुआ है या नहीं। क्योंकि हाल में ही उन्होंने वहां पदभार संभाला है।

आरएसएस नेता ने कहा लिस्ट में गलत नाम

आरएसएस के एक नेता ने बताया कि कई संगठनों के नाम लिस्ट में गलत लिखे हुए हैं। लिस्ट में कई ऐसे संगठन के नाम लिखे हुए हैं जिनका वजूद ही नहीं हैं। उन्होंने कहा कि इसी से पता चलता है कि बिहार की पुलिस का खुफिया तंत्र किस तरह काम करता है।

गौरतलब है कि आरएसएस के अलावा विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी), बजरंग दल, ह‌िंदू जागरण समिति, हिंदू राष्ट्र सेना, धर्म जागरण समिति, राष्ट्रीय सेविका समिति, दुर्गा वाहिनी स्वदेशी जागरण मंच, शिखा भारती, भारतीय किसान संघ, हिंदू महासभा, हिंदू यूवा वाहिनी तथा अन्य के नाम भी लिस्ट में शामिल थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुनिया के उद्योगपति बंगाल में करें निवेश – ममता

बंगाल आपका स्वागत करता है : सीएम दीघा में शुरू हुआ दो दिवसीय बंगाल ​पिजनेस कांक्लेव सन्मार्ग संवाददाता दीघा : नये उद्योग में निवेश के लिए बंगाल की आगे पढ़ें »

momota

हम लोगों में विभाजन नहीं करते : ममता

सन्मार्ग संवाददाता दीघा : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि विविधता में एकता राज्य की परंपरा है। यहां लोगों को जाति, आगे पढ़ें »

भाजपा संविधान के ‘वी द पीपल’ को ‘वी द हिंदू’ में बदल रही है : तेजस्वी यादव

पश्चिम चंपारण में यौन शोषण के बाद जिंदा जलाई गयी युवती की मौत

बिहार कांग्रेस ने नागरिकता बिल के विरोध में निकाला मार्च

निर्माण श्रमिकों को शीघ्र उपलब्ध करायें चिकित्सा सहायता राशि : सुशील मोदी

assam

नागरिकता बिल : नॉर्थ-ईस्ट में छात्रों का प्रदर्शन हुआ उग्र, 5000 अर्द्धसैनिक बल तैनात

sindhiya

सिंधिया ने कहा-भारतीय संस्कृति और संविधान के खिलाफ है नागरिकता संशोधन विधेयक

britain

हिंदी गानों में हो रहा बिट्रेन चुनाव प्रचार,अनुच्छेद 370 और जलियांवाला हत्याकांड पर वोट की होड़

actor

रणवीर सिंह को मिला बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड, शाहिद ने दिखाई नाराजगी

ऊपर