अंडे की वजह से पति-पत्नी आपस में भिड़े और…

बुलढाणाः आमतौर पर ज्यादातर लोग मुर्गी के अंडों का सेवन अपने को स्वास्थ्य रखने के लिए करते हैं। ऐसा आपने सुना होगा कि संडे हो या मंडे, रोज खाओ अंडे, लेकिन क्या एक अंडा पति-पत्नी के बीच विवाद करवा सकता है ? विवाद भी इतना कि बात पुलिस स्टेशन तक पहुंच जाय। जी हां, महाराष्ट्र से ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां अंडे पति पत्नी के झगड़े की वजह बन गये। यही नहीं झगड़ा इतना बढ़ गया कि ये मामला थाने पहुंच गया। फिर पुलिस ने भी अनोखे अंदाज में मामले की सुलह करवाई। मामला महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के साखरखेरडा गांव का है, जहां के पुलिस स्टेशन में पति और पत्नी एक दूसरे की शिकायत करने पहुंचे। पुलिस ने भी पति-पत्नी को झगड़ा करते हुए आता देख कोई खास रुचि नहीं दिखाई, लेकिन जब पुलिस को पता चला कि इनके बीच हए विवाद की वजह वजह तीन अंडे हैं तो वे भी चौंक गए। फिर क्या था पुलिसकर्मी भी उनकी शिकायत सुनने बैठ गए।
क्यों हुआ विवाद?
पति ने पुलिस अधिकारी को बताया कि वह बाजार से 3 अंडे लाया था और पत्नी से कहा कि इसकी भुर्जी बना दे। पत्नी ने अंडे की सब्जी तो बनाई लेकिन वह सब्जी उसने अपनी बेटी को खिला दी। जब वह वापस आया तो उसने अपनी पत्नी से अंडे की भुर्जी मांगी। इस पर पत्नी ने बताया कि अंडे की भुर्जी तो बेटी ने खा ली है। बस फिर क्या था, शुरू हो गया पति-पत्नी के बीच विवाद। दोनों में विवाद इतना बढ़ गया कि मामला पुलिस स्टेशन तक पहुंच गया। वहीं, पुलिस को भी इनके झगड़े की वजह सुनकर हंसी आ गई। साखरखेरड़ा पुलिस अधिकारी ने भी बहुत ही अनोखे ढंग से पति-पत्नी बीच की सुलह करवाई। पुलिस अधिकारी जितेंद्र अडोले ने अपने स्टाफ के एक कर्मी को बाजार भेजा और तीन अंडे लाने को कहा। अंडे आने के बाद पति-पत्नी को दिये गये। फिर वहां से पति पत्नी खुशी-खुशी घर चले गये। पुलिस ने बताया कि पति बिल्डिंग निर्माण में मिस्त्री के सहयोगी का काम करके जैसे-तैसे घर चलता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विदेशी में नौकरी दिलाने के नाम पर कोलकाता में युवकों का अपहरण, ली गयी 5 करोड़ से अधिक की फिरौती

अंतरराष्ट्रीय किडनैपिंग व फिरौती वसूलनेवाले गिरोह का फंडाफोड़ न्यू टाउन के फ्लैट से 18 युवकों का उद्धार पंजाब और हरियाणा सहित अन्य राज्यों के युवकों को बनाते आगे पढ़ें »

महानगर में 41 नए ईवी चार्जिंग स्टेशन सथापित करेगा निगम

कोलकाता : महानगर में इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या में बढ़ोतरी के मद्देनजर कोलकाता नगर निगम ने शहर भर में पार्किंग लॉट्स में करीब 41 चार्जिंग आगे पढ़ें »

ऊपर