किस उम्र में बदलने लगता है लड़के-लड़कियों का ‘मिजाज’

कोलकाता : उम्र बढ़ने के साथ लड़कों और लड़कियों में कुछ ऐसी भावना जगने लगती है जो उसे कुछ अलग करने, सोचने और समझने को विवश कर देती हैं। यह भावना कई बच्चों में 14 साल के ऊपर होते ही पनपने लगती है। कई ऐसे तरुण लड़के लड़कियों में 16 की उम्र से कुछ इस तरह की चीजें समझ में आती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वो अपने इस भावना को कैसे जाहिर करती हैं। आधुनिक लड़कियां अपनी यौन जरूरतों और इच्छाओं के बारे में अधिक स्पष्ट हैं। कई बार, वे केवल यह कहने से नहीं डरतीं कि वे सेक्स करना चाहती हैं। लड़कों के लिए, यह एक जैकपॉट की तरह है। जब उनकी पार्टनर उनसे कहती है कि उन्हें सेक्स करना है तो वह बहुत खुश हो जाते हैं। उस समय वह अपनी पार्टनर को खुशी देने और एक जोड़े के रूप में करीब बढ़ने पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। कई ऐसे लड़के होते हैं जो चैट करते वक्त ज्यादा रोमांटिक हो जाते हैं लेकिन सामने आते ही शर्म के मारे न तो उनके मुंह से बोल फूट पाता है और न ही वह किसी तरह का इशारा कर पाते हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार हमारे देश के शहरी किशोरों का रूझान अब समय से काफी पहले सेक्स की ओर होने लगा है। जिस ‘उम्र’ की बात हम कर रहे हैं वह भी हर नए सर्वे के साथ घटते हुए ही दिखा है। सेक्स एक नॉर्मल प्रक्रिया है, शरीर की जरूरत है। लेकिन जब जरूरत एक उल्टी तस्वीर पेश करने लगे तो चिंता और सवाल जायज हो जाते हैं। हमारे शहरों में हाल के वर्षों में सेक्स को लेकर किशोरों के मन में कैसे बदलाव हो रहे हैं, इसकी बानगी एक ई-हेल्थकेयर कंपनी मेडीएंजल्स डॉट कॉम के सर्वे से देखने को मिलती है। यह सर्वे देश के 20 बड़े शहरों में 13 से 19 साल के 15,000 लड़के-लड़कियों के बीच किया गया। सर्वे के अनुसार देश में लड़कों के लिए पहली बार सेक्सुअल कॉन्टैक्ट बनाने की औसत उम्र 13 साल है। जबकि लड़कियां 14 की उम्र में इसका अनुभव हासिल कर लेती हैं। मामला यहीं नहीं रूकता। कच्ची उम्र में सेक्स के प्रति आकर्षण और इससे जुड़े प्रयोग करने की चाहत में कई किशोर यौन संक्रामक रोगों से भी ग्रसित हो रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अब कोलकाता पुलिस के कर्मी कर सकेंगे स्वेच्छा से अंगदान

ऑर्गन डोनेशन के लिए भी भर सकते हैं फॉर्म सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : अगर कोई अंगदान करना चाहता है और उसे नियम नहीं पता तो उसकी मुश्क‌िल आगे पढ़ें »

ऊपर