क्या आप जानती हैं आरती करने का सही तरीका

कोलकाताः कोई भी पूजा बिना आरती के संपन्न नहीं होती है। इसलिए आरती पूजा में विशेष स्थान रखती है। दरअसल कहा जाता है कि पूजा के आखिर में आरती इसलिए की जाती है जिससे भगवान से पूजा के दौरान हर गलती के लिए क्षमा मांग ली जाए। लेकिन आरती पूजा का एक प्रमुख भाग होता है। यही नहीं आरती के दौरान भी कुछ नियमों का पालन करना जरूरी है। इसके अलावा किस बर्तन में आरती करनी है और कैसे आरती करनी है इस बात का भी पता होना बहुत जरूरी है।

आज आइए जानते हैं क्या है आरती करने का सही तरीका:

  • आरती करने से पहले अच्छे से आरती की थाली सजानी चाहिए।
  • इसके लिए सबसे पहले तांबे, पीतल या फिर चांदी की थाली लें।
  • इसके बाद थाली में रौली, अक्षत और प्रसाद के लिए कुछ मीठा रख लें।
  • इसके बाद चांदी, तांबे और पीतल के दीपक में आरती के लिए दिया जलाया जाता है।
  • इसके अलावा आटे का दीपक भी पूजा के लिए बहुत शुभ होता है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि या तो पांच, सात दीपक रखें या फिर दीपक में इतनी बाती लगाएं।
  • आरती करने के लिए पांच चीजों को अहम माना गया है।
  • दीपक, गंगा जल, शंख, स्वच्छ कपड़े, आम या फिर पीपल के पत्तेनत मस्तक होना।
  • रोज सुबह शाम इसी अनुसार आरती करनी चाहिए।
  • आरती के बाद शंख में रखे जल का सभी पर छिड़काव करना चाहिए।
  • कहा जाता है कि इससे जीवन में परेशानियां समाप्त हो जाती हैं। यही नहीं इसके बाद ही पूजा का पूरा फल मिलता है।
  • आरती करने के लिए दीपक रखी आरती की थाली को सही तरह से घुमाना बहुत जरूरी है। सबसे पहले इसे भगवान के चरणों की तरफ चार बार घुमाएं।
  • इसके बाद उनकी नाभि की तरफ दो बार घुमाएं और मुंह की तरफ ले जाकर एक बार घुमाएं।
  • इस प्रक्रिया को कुल सात बार से ज्यादा दोहराना चाहिए।
  • इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

फादर्स डे पर अपने पिता को ऐसे बतायें मन की बात!

कोलकाताः  माता-पिता हमारे जन्म का आधार होते हैं लिहाजा किसी व्यक्ति के लिए मां-पिता की अहमियत जीवन में सबसे बड़ी होती है। कोई भी संतान पूरी आगे पढ़ें »

पंजाब में ग्रीन फंगस का पहला केस

कोविड-19 से उबर चुके शख्‍स में दिखे लक्षण चंडीगढ़ : पंजाब में ग्रीन फंगस का पहला मामला सामने आया है। कोविड-19 से उबर चुके एक शख्‍स आगे पढ़ें »

ऊपर