रविवार के दिन करें ये कार्य, धन-धान्य से भरा रहेगा आपका घर

कोलकाता : हर दिन का अपना एक विशेष महत्व होता है। अगर हम प्रत्येक दिन कुछ ना कुछ ज्योतिषीय उपाय अपनाएं तो निश्चित तौर पर हमारे घर के भीतर सुख और समृद्धि का वास होगा। इसी कड़ी में रविवार का दिन भी काफी अहम होता है। रविवार का दिन सूर्य देवता का होता है। अगर आप इस दिन कुछ खास उपायों को करें तो आपको जरूर आर्थिक स्तर पर धन धान्य की प्राप्ति होगी। इस दिन सूर्य देवता की पूजा की जाती है। हमारे पौराणिक शास्त्रों और धार्मिक ग्रंथों में रविवार के दिन किए जाने वाले कुछ खास उपाय बताए गए हैं, जिनके करने से सूर्य देव के साथ-साथ माता लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं।
* शास्त्रों में कहा गया है कि रविवार को उगते और अस्त होते सूर्य को अर्घ्य दिया जाए तो व्यक्ति की हर मनोकामना पूर्ण हो सकती है। इसके चलते व्यक्ति के जो भी कार्य रुके होते हैं, वह भी सफलतापूर्वक पूर्ण हो जाते हैं। इससे सूर्य देवता भी प्रसन्न होते हैं।
*अगर किसी व्यक्ति की धन से जुड़ी समस्या है तो उसे रविवार के दिन सूर्यास्त होने के बाद पीपल के पेड़ के नीचे चौमुखी दीपक जलाना चाहिए। इसके अलावा इस दिन घर के सभी सदस्यों को माथे पर चंदन का टीका जरूर लगाना चाहिए। ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और भक्तों की सारी मनोकामना पूर्ण करती हैं।
* शास्त्रों में उल्लेखित है कि पानी के भीतर तैर रही मछलियों को आटे की छोटी-छोटी गोलियां बनाकर खिलानी चाहिए। इस उपाय को काफी शुभ माना गया है। इसे करने से माता लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है और वे अपने भक्तों के घर पर धन की कमी नहीं होने देती।
* हमारे पौराणिक धर्म ग्रंथों में इस बात का उल्लेख है कि रविवार के दिन घर के मुख्य गेट के सामने गाय के शुद्ध देशी घी का दीपक जलाना चाहिए। इस दिन अगर शिव मंदिर में जाकर गौरी शंकर रुद्राक्ष को चढ़ाया जाता है तो माता लक्ष्मी काफी प्रसन्न होती हैं। रविवार के दिन अगर आप इन उपायों को अपनाते हैं तो माता लक्ष्मी सदैव आपके घर को धन-धान्य से भर देंगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सियालदह तक मेट्रो की सौगात नए साल में

सियालदह तक मेट्रो शुरू करने की कवायद में जुटा प्रबंधन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के तहत कोलकाता मेट्रो रेलवे कॉरपोरेशन (केएमआरसीएल) ने सियालदह मेट्रो आगे पढ़ें »

ऊपर