असम सरकार ने सभी गर्ल्स स्कूलों को को-एड में बदला

गुवाहाटी : असम कैबिनेट ने  राज्य के सभी लड़कियों के सरकारी स्कूलों को सह-शिक्षा यानी को-एड स्कूलों (जिसमें सभी लड़का, लड़की, या ट्रांसजेंडर्स सभी पढ सकते हैं) में बदलने का फैसला किया। इसके साथ ही इन स्कूलों में असमिया, बोडो या बंगाली के बजाय अंग्रेजी माध्यम में गणित और विज्ञान की पढ़ाई शुरू करने का फैसला किया गया है। असम के शिक्षा मंत्री रोनोज पेगु ने  कहा, ‘ऐतिहासिक पृष्ठभूमि वाले कुछ स्कूलों को छोड़कर, राज्य के सभी सरकारी स्कूलों को सह.शिक्षा स्कूलों में बदलने का फैसला लिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि कक्षा 3 से 12 तक सभी सरकारी स्कूलों में साइंस और मैथ्समेटिक्स अंग्रेजी मीडियम में पढ़ाया जाएगा, न कि असमिया, बोडो, बंगाली या अन्य भाषाओं में। इसके अलावा प्रत्येक जिले में 5-10 स्कूल ऐसे होंगे, जिनमें असमिया, बोडो और बंगाली के समानांतर सभी विषयों में शिक्षा के माध्यम के रूप में अंग्रेजी होगी। इन स्कूलों के छात्रों के पास यह तय करने का विकल्प होगा कि कक्षा 6 से 12 तक की शिक्षा का माध्यम वे कौन सी भाषा को चुनना चाहते हैं। असम कैबिनेट ने माध्यमिक विद्यालयों में, सामाजिक अध्ययन विषय को दो विषयों, भूगोल और इतिहास के साथ बदलने का निर्णय लिया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अनुव्रत की गिरफ्तारी के बाद 7 दिनों की छुट्टी पर गये डॉक्टर चंद्रनाथ

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : अनुव्रत मण्डल की गिरफ्तारी के बाद उन्हें बेड रेस्ट की सलाह देने वाले डॉक्टर चंद्रनाथ अधिकारी छुट्टी पर चले गये हैं। उन्होंने आगे पढ़ें »

ऊपर